क्या आप भी बैंक में अपना पैसा भूल गए हैं? ऐसे करें चेक और क्लेम

Home   >   धनतंत्र   >   क्या आप भी बैंक में अपना पैसा भूल गए हैं? ऐसे करें चेक और क्लेम

265
views

अगर आप बैंक में सालों से पैसा जमा करके भूल गए हैं तो ये खबर आपके काम की है। भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से देश के बैंकों में अनक्लेम्ड डिपॉजिट के मालिकों को खोजने के लिए 100 दिनों का अभियान शुरू किया जाएगा। इस कैंपेन को 100 डेज-100 पे नाम दिया गया है। 1 जून 2023 से देश के सभी बैंक अनक्लेम्ड डिपॉजिट के मालिकों को खोजने के लिए अभियान शुरू करेंगे।

चलिए पहले जानते हैं कि ये अनक्लेम्ड डिपॉजिट (Unclaimed Deposits) है क्या? तो अनक्लेम्ड डिपॉजिट उसे कहा जाता है, जिसका 10 साल या उससे भी अधिक समय से किसी तरह का लेन-देन नहीं किया गया हो यानी जिस भी सेविंग या करेंट अकाउंट को 10 साल तक नहीं चलाया जाता है या जिन FD या RD खाते के मेच्योर होने के 10 साल बाद तक क्लेम नहीं किया गया है वो भी अनक्लेम्ड डिपॉजिट की कैटेगरी में आएंगी।

क्या होता है अनक्लेम्ड डिपॉजिट का?

बैंकों के पास जिस जमा रकम पर 10 साल तक कोई दावा नहीं किया जाता है, बैंक ऐसे ही अनऑपरेटिप खाते के कस्टमर्स से संपर्क करने की कोशिश भी करते हैं, लेकिन इसके बाद भी अगर कोई दावेदार नहीं मिलता, तो बैंक ये रकम RBI के ‘डिपॉजिटर एजुकेशन एंड अवेयरनैस’ फंड में ट्रांसफर कर देंगे। RBI अब 1 जून से 100 दिनों का कैंपेन चलाकर इन अनक्लेम्ड डिपॉजिट के निपटारे का काम शुरू कर रहा है। जिसके तहत हर एक जिले में हर एक बैंक में जमा 100 बिना दावा वाली रकम का पता लगाकर उनका निपटारा किया जाएगा। इस तरह से बैंकों में जमा अनक्लेम्ड डिपॉजिट को कम किया जा सकेगा और उस अमाउंट को उनके सही मालिकों और दावेदारों तक पहुंचाया जा सकेगा।  

ऐसे हासिल करें भूली रकम

अगर आपको भी अपने अनक्लेम्ड डिपॉजिट का पता लगाना है तो सबसे पहले बैंक की वेबसाइट पर जाकर लिस्ट में अपना नाम चेक करें। अगर आपका नाम दिखता है तो ब्रांच में जाकर फॉर्म भरना होगा। इसके बाद KYC की प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपको खातों में पड़ी रकम मिल सकती है। अगर रकम बड़ी है तो बैंक परिवार के सभी सदस्यों से NOC मांग सकता है। बैंकों की तरफ से सभी दस्तावेजों को वेरिफाई करने के बाद पैसा ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

किस बैंक में बिना दावे के कितने जमा हैं रुपए

आपको बता दें सरकारी बैंकों में करीब 35,000 करोड़ रुपये की रकम ऐसी है, जिस पर किसी ने अपना दावा नहीं किया है। सरकारी बैंकों ने इस पैसे को रिजर्व बैंक को ट्रांसफर कर दिया है। एसबीआई ने 8,086 करोड़ रुपए, पंजाब नेशनल बैंक ने 5,340 करोड़ रुपए, केनरा बैंक ने 4,558 करोड़ रुपए और बैंक ऑफ बड़ौदा ने 3,904 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए हैं। इन रुपयों का कोई दावेदार नहीं है।

LIC के पास भी पड़े हैं पैसे

RBI के मुताबिक, तमिलनाडु, पंजाब, गुजरात, महाराष्ट्र, बंगाल, कर्नाटक, बिहार, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के बैंकों में सबसे ज्यादा बिना दावे वाली रकम है। 31 मार्च, 2021 तक जीवन बीमा कंपनियों के पास 22,043 करोड़ रुपए और गैर जीवन बीमा कंपनियों के पास 1,241.81 करोड़ रुपए बिना दावे के पड़े हैं। केवल एलआईसी के पास 21,538.93 करोड़ रुपये बिना दावे के पड़े हैं।

पिछले 12 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं। वैश्विक और राजनीतिक के साथ-साथ ऐसी खबरें लिखने का शौक है जो व्यक्ति के जीवन पर सीधा असर डाल सकती हैं। वहीं लोगों को ‘ज्ञान’ देने से बचता हूं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!