Loksabha Election 2024: जानिए चुनाव में सबसे ज्यादा और सबसे कम जीत दर्ज करने वाले कैंडिडेट्स

Home   >   चुनावपुर   >   Loksabha Election 2024: जानिए चुनाव में सबसे ज्यादा और सबसे कम जीत दर्ज करने वाले कैंडिडेट्स

11
views

करीब छह हफ्तों तक चला 18वीं लोकसभा का चुनाव खत्म हो चुका है। लोकसभा चुनाव के आए नतीजों में NDA ने बहुमत का आंकड़ा तो पार कर लिया, लेकिन बीजेपी सिर्फ 240 सीटें ही जीत सकी। सत्ताधारी NDA ने 291 और विपक्षी I.N.D.I.A गठबंधन ने 234 सीटें जीतीं। इस बार NDA को सबसे बड़ा नुकसान हुआ है । लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) के आए नतीजे कई उम्मीदवारों के लिए अच्छी खबर लाया तो कई उम्मीदवारों को हार का मुंह भी देखना पड़ा तो किसी ने बहुत ही कम मार्जिन से जैसे तैसे जीत दर्ज की तो किसी ने लोकसभा चुनाव के इतिहास में जीत का सबसे बड़ा अपने नाम रिकॉर्ड भी बना डाला। ऐसे हम आपको उन पांच उम्मीदवारों के बारे में बताएंगे जिन्होंने 2024 के आम चुनाव में सबसे बड़ी और सबसे छोटी जीत दर्ज की है ।

आम चुनाव में सबसे बड़ी जीत 

असम के धुबरी से कांग्रेस के रकीबुल हुसैन ने 10 लाख 12 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से जीत के साथ इस सूची में टॉप पर बने हुए हैं । उन्हें कुल 14,71,885 वोट मिले । उन्होंने आल इंडिया यूनाईटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट पार्टी के मोहम्मद बदरुद्दीन अजमल को हराया है । वहीं मध्य प्रदेश की इंदौर लोकसभा सीट से बीजेपी के मौजूदा सांसद शंकर लालवानी ने 10 लाख 8 हजार वोटों के अंतर से जीतकर दूसरी सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बनाया है । उन्होंने बसपा उम्मीदवार संजय सोलंकी को हरा दिया। तीसरे नंबर पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विदिशा से 8 लाख 21 हजार वोटों से जीत दर्ज की । उन्होंने कांग्रेस के भानु प्रताप शर्मा को हरा दिया । इसके बाद बीजेपी के सीआर पाटिल हैं, जिन्होंने गुजरात के नवसारी से 7 लाख 73 हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है। उन्हें कुल 10,31,065 वोट मिले । उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में अपनी सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड तोड़ दिया है । सीआर पाटिल ने कांग्रेस के नैषाध देसाई को हरा दिया । वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गांधीनगर से 7 लाख 44 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से जीत दर्ज की। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी सोनल को हराया है ।

आम चुनाव में सबसे छोटी जीत

महाराष्ट्र की मुंबई उत्तर पश्चिम सीट पर शिवसेना के रविंद्र दात्ताराम वायकर मात्र 48 वोटों के अंतर से जीते। उन्हें कुल 4,52,644 वोट मिले । उन्होंने शिवसेना (यूबीटी) के अमोल गजानन कीर्तिकर को हराया । इसी तरह केरल की अत्तिंगल सीट से कांग्रेस उम्मीदवार अदूर प्रकाश 684 वोटों के अंतर से जीते । उन्हें कुल 3,28,051 वोट मिले। उन्होंने माकपा के वी. जॉय को हराया। वहीं छत्तीसगढ़ की कांकेर सीट पर बीजेपी के भोजराज नाग ने 1884 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की। उन्हें कुल 5,97,624 वोट मिले । उन्होंने कांग्रेस के बीरेश ठाकुर को हराया। चंडीगढ़ सीट पर कांग्रेस के मनीष तिवारी 2504 वोटों के अंतर से जीते। उन्हें कुल 21,6,657 वोट मिले। उन्होंने बीजेपी के संजय टंडन को हराया। इनके अलावा लक्षद्वीप सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार मुहम्मद हमदुल्ला सईद  2647 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की। उन्हें कुल 25,726 वोट मिले । उन्होंने राकांपा (शरद पवार) के उम्मीदवार मुहम्मद फैजल को हराया। अगली सरकार बनाने में नीतीश कुमार की जेडीयू और चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी का रोल अहम हो जाता है और बीजेपी-कांग्रेस की नजरें भी अब इन्हीं पर टिकी हैं। 

पिछले 12 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं। वैश्विक और राजनीतिक के साथ-साथ ऐसी खबरें लिखने का शौक है जो व्यक्ति के जीवन पर सीधा असर डाल सकती हैं। वहीं लोगों को ‘ज्ञान’ देने से बचता हूं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!