Panchayat Season-3 : क्यों लौकी हीरो और कटहल विलेन?

Home   >   रंगमंच   >   Panchayat Season-3 : क्यों लौकी हीरो और कटहल विलेन?

17
views

बारीकी से किया काम दिल का छूता है

कहानी दिल को तब छूती है, जब उस पर बारीकी से काम किया गया हो। क्राइम ड्रामा और थ्रिलर शोज के मौजूदा वक्त में पंचायत वेब सीरीज को खासा पसंद किया गया है। पंचायत सीजन 3 की तैयारी हमने क्लाइमेक्स से शुरू की थी। जो हर कहानी में समान नहीं हो सकता है। हमारा फोकस कहानी को कॉमिक और व्यंग्य जोन में ही रखने का था। हमें उसे भावुक नहीं बनाना था।ये बातें एक न्यूज पेपर को दिए इंटरव्यू में वेब सीरीज के डायरेक्टर दीपक कुमार मिश्रा ने है। उन्होंने कई चीजें शेयर की साथ में लौकी और कटहल का जिक्र किया।

उपहार स्वरूप भेंट करते लौकी

पंचायत वेबसीरीज में जितेंद्र कुमार, नीना गुप्ता, रघुबीर यादव, फैसल मलिक, चंदन रॉय और संविका जैसे दमदार स्टार कास्ट है। इन सभी ने अपनी बेहतरीन एक्टिंग से दर्शकों का खूब मनोरंजन किया है। इसके साथ ही एक कैरेक्टर और है लौकी का। जो इस कहानी को आगे बढ़ाने में बेहद अहम रोल अदा करती है। प्रधान जी यानी रघुबीर यादव गांव में जब किसी से मिलते इसे लौकी उपहार स्वरूप भेंट करते।

कटहल लगता है खलनायक जैसा

वेबसीरीज के डायरेक्टर दीपक कुमार मिश्रा ने इंटरव्यू में बताया कि पंजायत सीजन 2 में प्रधान जी ने बोला था कि चुनाव आने वाले हैं,  तो ये तय था कि हम सीजन 3 में चुनाव के बारे में बात करेंगे। सीजन – 2 में लौकी ने धमाल मचाया था। सीजन – 3 में कटहल भी देखने को मिलेगा। गांव में ये व्यवहार की बात होती है कि नेता जी लोग जो गांव में होते हैं, वो किसी से मिलते हैं तो उन्हें भेंट में कुछ देते हैं। ये घूस देने जैसा नहीं था। लौकी सुनने में बहुत मजेदार सब्जी लगती है। हमने कहा इसे मजेदार ही रखते हैं। कटहल देखने में खलनायक जैसा लगता है, तो कटहल विलेन की तरफ होगा और सचिव जी की तरफ लौकी है।

दोनों ही सीजन सुपरहिट

सचिव जी' और 'प्रधान जी' के दीवानों का फेवरेट पंचायत। शानदार प्लॉट और दिलचस्प स्क्रिप्ट है। इस सीरीज के अब तक दो सीजन सीरीज रिलीज हो चुके हैं और दोनों ही सुपरहिट हुए। पहला सीजन साल 2020 में और दूसरा साल 2022 में रिलीज शुरू हुआ था। लंबे इंतजार के बाद इसका तीसरा सीजन भी 28 मई को ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम पर रिलीज हो चुका है। कहानी वहीं से शुरू है, जहां पर दूसरा सीजन खत्म हुआ था। उम्मीद है कि इस बार भी पंचायत अपना कमाल जरूर दिखाएगी।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!