जब फिल्म मेकर्स ने कल्पनाओं से बुनी धरती और चांद की ये कहानियां

Home   >   रंगमंच   >   जब फिल्म मेकर्स ने कल्पनाओं से बुनी धरती और चांद की ये कहानियां

109
views

स्पेस मिशन से जुड़ी कहानियों को दर्शक काफी पसंद करते हैं। जिसका फायदा फिल्म मेकर्स उठाते हैं, इन फिल्मों की कहानियां भी स्पेस और धरती से जुड़ी हुईं हैं।

23 अगस्त 2023 भारत के लिए ऐतिहासिक दिन इसरो के कई साइंटिस्ट की मेहनत से भारत चंद्रमा के साउथ पोल में सॉफ्ट लैंडिंग कराने वाला पहला देश बन रहा है, ऐसी हम उम्मीद कर रहे हैं। अपनी पृथ्वी से बाहर स्पेस में होने वाले मिशंस को लेकर लोगों में खूब क्रियोसिटी होती है। शायद इसी का फायदा फिल्म मेकर्स उठाते हैं, हिंदी सिनेमा में कई ऐसी फिल्में बनीं हैं, स्पेस से रिलेडेट फिल्में बनाते है। शायद चंद्रयान-3 का पूरा मिशन देखने के बाद आपका स्पेस रिलेटेड  फिल्में देखने का मन हो, तो चलिए हम आपको ऐसी ही कुछ फिल्मों के बारे, उनके कुछ डिश्क्रिप्शन के साथ बताते हैं।

हिंदी सिनेमा की फिल्मों से पहले मैं सबसे पहले आपको साल 1902 में आई फ्रांस की फिल्म अ ट्रिप टू मून के बारे में बताना चाहूंगी। ये सिर्फ 12 मिनट 52 सेकेंड की साइलेंट फिल्म है। सिनेमा की दृष्टि से इस फिल्म की अपनी इम्पोटेंस भी है। भले ही फिल्म आज के वीएफएक्स पैटर्न से पहले आई हो, लेकिन देखने में आज भी ये आपके जहन में घर करने की योग्यता रखती है। ये आसानी से आपको यूट्यूब पर भी मिल जाएगी।

सबसे पहले तो साल 1967 में एक फिल्म आई थी चांद पर चढ़ाई, फिल्म में मशहूर एक्टर रहे दारा सिंह लीड रोल में थे और फिल्म में चांद की धरती पर उतरे थे। ये हिंदी सिनेमा की पहली साइंस फिक्शन फिल्म मानी जाती है।

इस फिल्म की दिलचस्प बात ये थी कि दारा सिंह यानी अंतरिक्ष यात्री कैप्टन आनंद और उसका सहयोगी भानू, चांद पर जाता है। चांद की धरती पर कदम रखते ही इन्हें दूसरे ग्रहों से आए मॉन्सटर्स से लड़ना पड़ता है। एलियन या स्पेश की जब बात होती है तो सबसे पहला नाम लोगों के जहन में कोई मिल गया फिल्म का आता है।

ऋतिक रोशन और प्रीति जिंटा स्टारर ये फिल्म साल 2003 में आई थी। फिल्म में अंतरिक्ष से आए एलियन, जिसका नाम जादू था..उसकी और मानसिक रूप से विकलांग रोहित के साथ रिश्ते की कहानी को दिखाया गया था।

शाहरुख खान भी रील लाइफ में अंतिरक्ष की सैर कर चुके हैं, जिसके लिए वो चांद पर तो नहीं लेकिन बताया जाता है शूटिंग के लिए नासा जरुर गए थे। 21 दिसंबर 2018 को फिल्म आई थी जीरो जिसके क्लाइमेंस सीन में शाह रुखखान अंतरिक्ष की सैर करते नजर आते हैं।

वैसे इस लिस्ट में साल 2014 में आई आमिर खान की फिल्म पीके भी है। इस फिल्म में अगर कोई दूसरे ग्रह का प्राणी धरती पर आता है और वो होमोसेपियंस यानी मनुष्य की तरह ही दिखता है, तो वो इंसानों के बनाए सिस्टम से कैसे कंफ्यूज हो सकता है, इसे काफी क्रिएटिवली दिखाया गया है। और अब आखिर में साल 2019 में आई मिशन मंगल फिल्म.इसमें अक्षय कुमार के साथ, सोनाक्षी सिन्हा, विद्या बालन और  तापसी पन्नू लीड रोल में थे। फिल्म भारत के सफल मिशन मंगलयान यानी कि Mars Orbiter Mission पर बेस्ड थी।

इस फिल्म में वो दुस्वारियां दिखाई गईं है, जो साइंटिस्ट को फेस करनी पड़ती है और कैसे कम बजट पास करने के बाद भी उन्होंने देश को कैसे गर्व का मौका दिया, ये सब फिल्माकर दिखाया गया है। 

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!