ग्रीन टी के फायदों से साथ जान लीजिए ये जरूरी बात

Home   >   मंचनामा   >   ग्रीन टी के फायदों से साथ जान लीजिए ये जरूरी बात

100
views

Green Tea को लेकर लोगों के जहन में कई सवाल होते हैं। सीनियर न्यूट्रिशियनिस्ट मीनाक्षी अनुराग से बातचीत के आधार पर, आइए जानते हैं कि ग्रीन टी के इस्तेमाल के बारे में....

 

वेट लॉस के लिए कई बार आपने लोगों को दूध वाली रोज की चाय को मोह छोड़कर ग्रीन टी की तरफ स्वीच करते हुए देखा होगा। लेकिन ग्रीन टी को लेकर लोगों में काफी कंफ्यूजन भी है, जैसे कि क्या ग्रीन टी वजन कम करने में मदद कर सकती है। ग्रीन टी कब पीनी चाहिए, क्या खाली पेट ग्रीन टी पी सकते हैं, रात में ग्रीन टी क्यों नहीं पीनी चाहिए और भी काफी सवाल मुमकिन है हर घर में इसको लेकर कुछ न कुछ बात जरुर होती है। तो चलिए आज ग्रीन टी पर ही बात करते हैं।

ग्रीन टी पीने से बॉडी डिटॉक्स होती है। बॉडी डिटॉक्स का मतलब सरल भाषा में कहें तो शरीर से टॉक्सिन पदार्थ मानें जो चीजें शरीर के लिए अनहेल्थी, वो जब प्राकृतिक रूप बाहर निकालती हैं, तो इसे बॉडी डिटॉक्स बोलते हैं। जिससे हेल्थ रिलेटेड कई परेशानियों से छुटकारा भी मिलता है। ये कई पुरानी बीमारियों और सीरियस हेल्थ प्रॉब्लम्स के रिस्क को भी कम करती है, क्योंकि ग्रीन टी में कईं न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जिससे सेहत को फायदा होता है। जैसे कि दिल की बीमारी का खतरा कम होता है, डाइजेस्टिव सिस्टम अच्छा रहता है, कोलेस्ट्रोल कम होता है, इम्यूनिटी ठीक होती है, मुंह के इन्फेक्शन में भी मददगार होती है।

वैसे इसी के साथ कई साइट्स पर ये भी जिक्र मिलता है कि पीरियड्स के दौरान ग्रीन टी पीने से मांसपेशियों की ऐंठन से आराम मिलता है और दर्द भी कम होता है। वैसे जापान  और चाइना  में सैंकड़ो सालों से ग्रीन टी को मेडिकल पर्पस से इस्तेमाल किया जाता रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, ग्रीन टी में कई विटामिन्स के साथ ही थायमीन, मैंगनीज, पोटैशियम, कॉपर, आयरन, ऑक्सीडेंट, पॉलीफेनोल जैसे तत्व पाए जाते हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं, जो मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करते हैं। इसी के साथ अब बात करते हैं ग्रीन टी से जुड़े कॉमन सवालों के बारे में

क्या ग्रीन टी सुबह खाली पेट पीनी चाहिए

तो इसका जवाब है नहीं, डाइटिशियन इस बात को साफ तौर पर कहते हैं कि सभी लोगों को ग्रीन टी सूट करे, ये जरूरी नहीं है। कुछ लोगों को सुबह खाली पेट ग्रीन टी डाइजेस्ट नहीं होती है। ऐसे लोग सुबह खाली पेट ग्रीन टी पीना अवॉइड करें।

क्या ग्रीन टी में चीनी मिलाकर पीने को तरीका ठीक है

ग्रीन टी का स्वाद कुछ कड़वा होने की वजह से लोग इसमें चीनी मिक्स करके पी लेते हैं। जिससे ग्रीन टी का फायदा कम हो जाता है। लेकिन चीनी की जगह शहद मिलाकर ग्रीन टी पी जा सकती है, और ऐसा क्यों है, तो इसका जवाब काफी इंटरेस्टिंग है। ग्रीन टी यूं तो बहुत फायदेमंद होती है। लेकिन अगर इसमें शहद , अदरक , तुलसी , पुदीना में से कुछ मिला कर पीते हैं, तो उस कंडीशन पर इसके फायदे और बढ़ जाते हैं। लेकिन सुबह खाली पेट और रात को सोने के पहले ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए।दरअसल जब आप रात को ग्रीन टी पीते हैं, तो नींद आने में दिक्कत हो सकती है।सुबह एक्सरसाइज करने के आधे घंटे पहले इसे पी सकते हैं। सुबह 11-12 बजे के बीच पी सकते हैं। लंच से 1 घंटे पहले पीना भी फायदेमंद है। शाम के नाश्ते के 1-2 घंटे बाद पी सकते हैं।

किसे लोगों को ग्रीन टी पीना अवाइड करना चाहिए।

प्रेग्नेंट और ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को क्योंकि ग्रीन टी में मौजूद कैटेचिन कंपाउंड प्रेग्रेंसी में एंग्जाइटी बढ़ाने के साथ बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है। इसी के साथ ही मोतियाबिंद के पेशेंट्स को, जिनका डाइजेशन वीक हो, एनीमिया के मरीजे को भी ग्रीन टी से दूरी बनाए रखनी चाहिए।

अब सवाल आता है कि ग्रीन टी एक दिन में कितनी बार पीनी चाहिए, तो एक दिन में 3 से 4 कप से ज्यादा ग्रीन टी पीने की इजाजत डॉक्टर्स भी नहीं देते हैं, क्योंकि ग्रीन टी के ज्यादा इस्तेमाल से शरीर पर इसके कई साइड इफैक्ट्स जैसे कि स्किन में रूखापन होना, माइग्रेन या सिरदर्द होना, खराब डाइजेशन होना, नींद में दिक्कत आना, उल्टी आना या वैसा ही महसूस होना जैसे साइडइफेक्ट दिख सकते हैं।

एक गलती जो लोग ग्रीन टी बनाते वक्त करते हैं कि उबलते हुए पानी में ग्रीन टी डाल देते है, तो ऐसा करने से ग्रीन टी का फायदा कम हो जाता है। इसे सही तरीके से बनाने के लिए पानी को अच्छी तरह से खौला लें। फिर पानी को कप में डाल दें,  फिर उसमें एक टी बैग या फिर अंदाज से करीब 2 ग्राम ग्रीन टी की पत्तियां डालें और दो-तीन मिनट के लिए छोड़ दें, फिर इसका सेवन करें।

वैसे आपको ये भी बता दें कि ग्रीन टी को स्किन और बालों में इस्तेमाल किया जा सकता है। जहां गुलाबजल के साथ इसे स्किन पर इस्तेमाल करने से अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के कारण ये स्किन को मुलायम और हाइड्रेट करती है, तो बालों में इसके इस्तेमाल से बाल कम झड़ते हैं, डेन्ड्रफ नहीं होता और बाल मजबूत और घने होते हैं।

 

 

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!