Actress Madhuri Dixit : चार सालों के संघर्ष के बाद मिली थी पहली सफलता

Home   >   किरदार   >   Actress Madhuri Dixit : चार सालों के संघर्ष के बाद मिली थी पहली सफलता

101
views

साल 1984 । फिल्म ‘अबोध’ रिलीज हुई और ये फिल्म फ्लॉप हो गई। लेकिन इस फिल्म में काम कर रहीं एक्ट्रेस माधुरी दीक्षित ने बता दिया कि आने वाला वक्त उनका है। खूबसूरती और शानदार एक्टिंग के साथ इन्होंने लोगों के दिलों में राज किया। हर बड़े एक्टर और डायरेक्टर के साथ काम किया।

माधुरी के पैरेंट्स नहीं चाहते थे कि वो फिल्मों में काम करें। वो चाहते थे कि वो एक डॉक्टर बने। पर फिल्मों में काम करने का ऑफर माधुरी के पास खुद चल के आया। आज शायद ही कोई होगा जो माधुरी दीक्षित को न जानता हो। पर आपको पता है कि उनको भी सफलता का पहला स्वाद चखने में चार सालों का वक्त लगा।

15 मई साल 1967 को मुंबई के एक मराठी ब्राह्मण परिवार में माधुरी दीक्षित का जन्म हुआ। वो पढ़ाई में तेज थीं। माधुरी के साथ उनके पैरेंट्स भी चाहते थे वो एक डॉक्टर बने। उनकी फैमिली का बॉलीवुड से दूर-दूर तक कोई भी वास्ता नहीं था। माधुरी जब 17-18 की उम्र की थी तब उनको एक फिल्म में काम करने का मौका मिल गया।

टीवी शो को दिए एक इंटरव्यू में माधुरी दीक्षित ने बताया था कि मैंने 12वीं के एग्जाम दिए ही थे। छुट्टियां हो गईं थी। इन्हीं छुट्टियों के दौरान मुझे राजश्री प्रोडक्शन से फिल्म अबोध में काम करने का ऑफर आया।’ 

दरअसल फिल्म ‘अबोध’ के लिए डायरेक्टर हीरेन नाग को एक मासूम चेहरे की तलाश थी। माधुरी अपने स्कूल में ड्रामा और डांसिंग में हमेशा आगे रहतीं। उनकी बड़ी बहन की एक दोस्त के पिता ‘राजश्री प्रोडक्शन’ के साथ जुड़े हुए थे। और उन्हीं से ही डायरेक्टर हीरेन नाग को माधुरी के बारे में पता चला। जब माधुरी को फिल्म में काम करने का ऑफर आया तो पिता शंकर दीक्षित ने मना कर दिया, लेकिन कई बार मनाने के बाद वो मान गए और ऐसे माधुरी को फिल्म 'अबोध' मिली। पर किस्मत, ये फिल्म फ्लॉप हो गई। लेकिन बॉलीवुड को एक खूबसूरत और शानदार एक्ट्रेस मिल गईं थी। हालांकि उनको सफलता का पहला स्वाद चखने में चार सालों का लंबा वक्त लगा।

साल था 1988 और फिल्म थी डायरेक्टर एन चंद्रा की “तेजाब”। इस फिल्म के आने के बाद, बच्चे, बूढ़े और जवान, सभी माधुरी को मोहिनी के नाम से जान रहे थे।

टीवी शो में दिए इंटरव्यू में माधुरी दीक्षित बताती हैं कि फिल्म तेजाब जब रिलीज हुई थी, तो उस वक्त मैं अमेरिका में थी। मेरी बहन की शादी थी। इस दौरान एक फोन आया कहा कि - आपकी फिल्म सुपरहिट हो गई हैं। ये खबर सुनकर मैं बेहद खुश हुई। जब मैं भारत आई तब एयरपोर्ट से घर लौटते समय मेरी कार सिगनल पर रुकी। एक फूल बेच रहा बच्चा मेरी कार की ओर भाग कर आया। वो मुझे कहने लगा आप - मोहिनी हैं न? मैं हैरान हो गई। क्योकि इससे पहले मुझे कोई पहचानता नहीं था। मैंने बच्चे को बताया – हां, मैं ही मोहिनी हूं।’

माधुरी के हुनर को ग्रेट डायरेक्टर सुभाष घई ने पहचाना। उन्होंने माधुरी दीक्षित को साल 1989 में रिलीज हुई फिल्म ‘राम लखन’ में काम करने का मौका दिया। ये फिल्म हिट हो गई। ‘तेजाब’ और ‘राम लखन’ के बाद अनिल कपूर के साथ माधुरी दीक्षित की ऐसी जोड़ी जमी की दोनों ने एक साथ 'परिंदा', 'पुकार', 'किशन कन्हैया', 'जमाई राजा', 'खेल' जैसी करीब 17 से ज्यादा फिल्मों में काम किया।

इसके बाद साल 1990 में एक्टर आमिर खान के साथ 'दिल', साल 1993 में संजय दत्त के साथ 'खलनायक', साल 1994 में एक्टर सलमान खान के साथ 'हम आपके हैं कौन' और साल 1997 में शाहरुख खान के साथ 'दिल तो पागल है' जैसी फिल्में करने के बाद माधुरी दीक्षित के करियर को एक नई ऊंचाई मिली।

पद्मश्री से सम्मानित माधुरी दीक्षित को 17 बार फिल्मफेयर में नॉमिनेशन मिला। वहीं 6 बार इस अवार्ड से उनको नवाजा भी गया।

माधुरी दीक्षित की जिंदगी में प्रेम और शादी की बात की जाए तो। उनका नाम एक्टर संजय दत्त और क्रिकेटर अजय जडेजा से जोड़ा गया। लेकिन इन दोनों के साथ उनकी जिंदगी आगे नहीं बढ़ी। कुछ समय बाद उनकी जिंदगी में श्रीराम माधव नेने आए।

डॉ श्रीराम माधव नेने एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में बताते हैं कि मेरी और माधुरी की शादी अरेंज्ड नहीं बल्कि लव मैरिज है। हमारी मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के घर हुई थी। इस मुलाकात के 3 महीने बाद ही साल 1999 में हमने एक दूसरे से शादी कर ली।’

शादी के बाद माधुरी दीक्षित ने बॉलीवुड से दूरी बना ली। और अमेरिका सेटल हो गईं। इनके दो बेटे हुए। लेकिन फिल्मों से प्यार होने की वजह से वो दोबारा से बॉलीवुड में आई।

इन्होंने साल 2007 में फिल्म ‘आ जा नच ले’ से कमबैक किया। फिल्म नहीं चली नहीं। ‘डेढ़ इश्किया’ और ‘गुलाब गैंग’ जैसी फिल्में भी पिट गईं। फिल्में में तो नहीं चली लेकिन माधुरी का बॉलीवुड ने खुलकर स्वागत किया।

बॉलीवुड में कमबैक करने के कुछ ही समय बाद डॉ नेने और माधुरी दीक्षित पूरी फैमिली के साथ मुंबई में सेटल हो गईं।

माधुरी दीक्षित आज के समय में फिल्मों में कैरेक्टर रोल करने के साथ बतौर जज कई रियलिटी शोज का हिस्सा हैं। माधुरी दीक्षित ने जो फिल्मों में काम किया इसके लिए वो कई नई एक्ट्रेस के लिए रोल मॉडल हैं।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!