Actress Nimmi : जब हॉलीवुड एक्टर चूमने के लिए आगे बढ़ा...

Home   >   किरदार   >   Actress Nimmi : जब हॉलीवुड एक्टर चूमने के लिए आगे बढ़ा...

27
views

अपने दौर फेमस एक्ट्रेस निम्मी जिन्हें 'अनकिस्ड गर्ल ऑफ इंडिया’ कहा गया। खूबसूरत इतनी की हर बड़ा एक्टर इसके साथ काम करने को बेताब रहता, पर निम्मी की खुद की एक गलती से ये बर्बादी की कगार में आ गईं।

 

'मैं एक हिंदुस्तानी लड़की हूं'

साल 1952 की फिल्म 'आन' को बड़े पैमाने पर रिलीज किया गया। प्रीमियर लंदन के 'रिआल्टो थिएटरमें रखा गया। इस दौरान डायरेक्टर महबूब खान और फिल्म में सेकेंड लीड रोल करने वाली एक्ट्रेस मौजूद थीं। हॉलीवुड के कई स्टार आए हुए थे। जिसमें से एक थे एरल लेजली थॉमसन फ्लिन। जिन्होंने अंग्रेजी रिवाज के तहत आगे बढ़ते हुए एक्ट्रेस का हाथ चूमने की कोशिश की। तभी अपना हाथ पीछे हटाते हुए वो एक्ट्रेस बोलती हैं कि 'मैं एक हिंदुस्तानी लड़की हूंआप मेरे साथ ये सब नहीं कर सकते हैं।' इस वाकये के बाद अगली सुबह लंदन के अखबारों में इस एक्ट्रेस के लिए लिखा गया था - 'The Unkissed Girl Of India'ये कोई और नहीं अपने दौर थी फेमस एक्ट्रेस निम्मी थीं। खूबसूरत इतनी की हर बड़ा एक्टर इसके साथ काम करने को बेताब रहता। चाहे वो दिलीप कुमार होंराज कपूर या फिर देव आनंद। पर जल्द ही वो बर्बादी की कगार में आ गईं। इसकी वजह ये खुद थीं।

नवाब बानो कैसे बनीं 'निम्मी'?

18 फरवरीसाल 1933 यूपी के आगरा में निम्मी का जन्म हुआ, पूरा नाम नवाब बानो। राज कपूर ने जब इन्हें पहली बार देखा तो देखते रह गए। साल 1949 की फिल्म बरसात में ब्रेक दिया और नया नाम भी दिया - 'निम्मी'। लेकिन राज कपूर पहले निम्मी को 'किन्नी' नाम देना चाहते थे पर ऐसा हो न सका। इसकी वजह एक्ट्रेस तबस्सुम थीं। एक शो में वो बताती हैं कि 'मुझको घर में सब 'किन्नीपुकारत थेये नाम मुझे राज कपूर ने दिया था। वो कहते थे कि तबस्सुम बड़ा मुश्किल नाम है। मुझे 'किन्नीनाम पसंद था। एक दिन राज कपूर ने मेरे पिताजी से कहा, मैं अपनी फिल्म 'बरसातमें एक नई एक्ट्रेस लॉन्च कर रहा हूंजिसका नाम नवाब बानो है। नवाब बानो नाम मुश्किल हैइसलिए मैं उसका नाम 'किन्नी' रख रहा हूं। ये बात सुनते ही मैं दहाड़े मार कर रोने लगी। इसके बाद तय हुआ कि 'किन्नी' सिर्फ मेरा नाम रहेगानवाब बानो को 'निम्मी' नाम दिया जाएगा।'

हॉलीवुड के ऑफर को मना किया 

साल 1952 की फिल्म 'आनमें निम्मी ने 'मंगला' नाम का रोल किया था। जब फिल्म पूरी बनकर तैयार हुई तो फिल्म को डिस्ट्रीब्यूटर ने खरीदने से मना कर दिया। कहा कि निम्मी के किरदार के जल्दी मर जाने से दर्शकों की दिलचस्पी फिल्म से चली जाएगी और कोई फिल्म नहीं देखेगा। इसके बाद डायरेक्टर महबूब खान ने फिल्म के पूरी होने के बाद भी 'मंगलाका ड्रीम सीक्वेंस शूट किया जिसके बाद डिस्ट्रीब्यूटर ने फिल्म खरीदी। फिल्म 'आन' के लंदन में प्रीमियर के बाद निम्मी को हॉलीवुड के ऑफर आए पर उन्होंने मना कर दिया। उनका कहना था कि 'हॉलीवुड फिल्म में इंटिमेट सीन और 'किसिंगसीन होते हैं जिससे मुझे ऐतराज है।'

जब महबूब खान की मदद की

ये वो दौर था जब हर एक एक्टर निम्मी के साथ काम करना चाहता। वो बड़ी एक्ट्रेस होने के साथ अपने लोगों की मदद के लिए भी खड़ी रहतीं। एक बार जब भारत की ओर से ऑस्कर में भेजी गई पहली फिल्म 'मदर इंडियाबनाते वक्त महबूब खान पैसों की तंगी से जूझ रहे थे। ये बात निम्मी के कानों में पड़ी वो फौरन अपने साड़ी के पल्लू में नोटों का बंडल बांधकर महबूब खान के ऑफिस पहुंची वहां बैठे मैनेजर से बोलीं 'ये फिल्म (मदर इंडिया) जरूर बननी चाहिएलेकिन प्लीज़! महबूब साहब को इस बारे में न बताइएगा कि निम्मी ने रुपये दिए हैं।'

जब एक गलती की वजह से फिल्में मिलना हो गई बंद 

दो दशक के सफर में करीब 45 से 50 फिल्में ही करने वाली निम्मी हमेशा ही अपनी शर्तों पर काम करती। यही वजह उनके चमचमाते करियर पर भारी पड़ी। उनका स्टारडम धीरे- धीरे कम हो गया। दरअसल जब डायरेक्टर हरमन सिंह रवैल साल 1963 की फिल्म 'मेरे महबूबबना रहे थेवो एक्टर राजेंद्र कुमार के अपोजिट निम्मी को कास्ट करना चाहते थेलेकिन निम्मी फिल्म में राजेंद्र कुमार की बहन का रोल करना चाहती थीं। काफी मनाने पर निम्मी नहीं मानी। फिर लीड रोल में साधना को कास्ट किया गया और निम्मी को सेकेंड लीड में ले लिया गया। इस फिल्म के बाद साधना के लिए नए दरवाजे खुले और निम्मी के करियर की गाड़ी धीमी पड़ गई। दो साल बाद ही फिल्में मिलना बंद हो गई। साल 1965 की आकाशदीप उनकी आखिरी फिल्म थी। 

87 साल की उम्र में अंतिम सांस ली

फिर फैसला किया घर बसाने का साल 1965 में  स्क्रीनप्ले राइटर एस अली रज़ा से शादी की। दोनों का साथ 42 सालों का रहा। साल 2007 में  एस अली रज़ा का निधन हो गया। वहीं 13 साल बाद 25 मार्च 2020 को 87 साल की उम्र में निम्मी ने भी आखिरी सांस ली।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!