AI करेगा TRAI की राह आसान, स्पैम कॉलर नहीं कर सकेंगे परेशान

Home   >   Techमंच   >   AI करेगा TRAI की राह आसान, स्पैम कॉलर नहीं कर सकेंगे परेशान

123
views

कई बार आप जब जरूरी काम कर रहे होते है तभी अचानक से फोन की रिंग बज उठती है और आप फोन उठाने को मजबूर हो जाते हैं लेकिन जब कोई दूसरी तरफ से बोलता—'हैलो सर, आपको लोन,मेडिकल या एडमिशन चाहिए क्या? इतना ही सुनते झिला उठते हैं और फोन कट कर देते हैं..इन्हीं अनचाहे कॉल और मैसेज से आपको निजात दिलाने ने लिए TRAI ने प्लान तैयार किया है। जिसके बाद 1 मई से कोई भी अनवॉन्टेड कॉल और मैसेज आपको परेशान नहीं करेगा।

अब टेलिकॉम कंपनियों को प्रमोशनल और फर्जी कॉल्स और मैसेज को रोकने के टूल को लॉन्च करना होगा। इसके लिए टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी TRAI ने टेलीकॉम कंपनियों को 1 मई 2023 तक का समय दिया।

TRAI ने इस बारे में कहा है कि टेलीकॉम कंपनियां 1 मई तक आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस स्पैम फिल्टर लगाएं ताकि लोगों को परेशान करने वाली अनचाही कॉल्स को नेटवर्क पर ही ब्लॉक कर दिया जाए मतलब आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस स्पैम फिल्टर अब नेटवर्क पर ही कॉल को बंद कर देंगे। 

यानी आम लोगों के फोन नंबर पर ऐसे कॉल्स पहुंचेंगे ही नहीं।ऐसे में इसका फायदा ये होगा कि मीटिंग, अस्पताल या जरूरी काम के बीच आपको कोई भी अनचाही कॉल या मैसेज परेशान नहीं करेगा और स्पैम कॉल की घंटी बजने से पहले ही कॉल डिस्कनेक्ट हो जाएगी।

इससे पहले टेलिकॉम कंपनियों को प्रमोशनल और फर्जी कॉल्स और मैसेज को रोकने के टूल को लॉन्च करना होगा। मतलब साफ है कि 1 मई के डेडलाइन के बाद यूजर को फोन पर मिलने वाली अनचाही फर्जी मैसेज और कॉल्स से छुटकारा मिल जाएगा।इस पर वोडाफोन आइडिया ने Tenla Platforms के साथ करार करके काम भी शुरू कर दिया है। Airtel ने हिया के साथ इस APP का सक्सेस फूल ट्रॉयल किया। जिसके बाद एयरटेल कभी भी स्पैम फिल्टर लगाने की घोषणा कर सकता है। वहीं रिलायंस जियो का 3 कंपनियों के साथ ट्रायल लास्ट स्टेप में है।

ट्राई की ओर से अनचाही कॉल्स और मैसेज को काउंटर करने के लिए भी एक प्लान बनाया गया है। इसके तहत ट्राई की ओर से होम मिनिस्ट्री और साइबर सेल की ओर से मिलने वाली फर्जी और अनचाही कॉल की शिकायतों को टेलीकॉम कंपनियों के साथ शेयर किया जाएगा। इसके बाद टेलीकॉम कंपनियां ऐसे फर्जी कॉल्स और मैसेज के खिलाफ कार्रवाई कर पाएंगी। साथ ही टेलीकॉम कंपनियों जैसे जियो, एयरटेल बीएसएनएल को बैकिंग, मार्केटिंग के लिए अलग सीरीज के नंबर जारी किए जाएंगे। जिससे यूजर्स आसानी से बैंकिंग और प्रमोशनल कॉल और कॉल्स को पहचान पाएंगे।

लेकिन इससे पहले टेलीकॉम कंपनियां कुछ और तरीकों से स्पैम कॉल को रोकती थी।इसके लिए आप दो तरीके अपना सकते हैं। पहले तरीके में अनचाहें कॉल और मैसेज को आप इस तरह ब्लॉक कर सकते हैं।सबसे पहले अपने स्मार्टफोन को खोले और रीसेंट कॉल्स पर जाएं। जिसके बाद कॉल लिस्ट में उस नंबर को चुनें जिनको आप स्पैम मार्क करना चाहते हैं। फिर उसके बाद Block/Report Spam पर क्लिक करें। ऐसा करते ही वो नंबर ब्लॉक हो जाएगा और उस नंबर से कभी आपको कॉल नहीं आएगा। दूसरे तरीके से आप कॉल और मेसेज के जरिए स्पैम कॉल को ब्लॉक कर सकते हैं।

इसके जरिए अगर आप एयरटेल, जियो और वोडाफोन आईडिया के किसी भी नंबर पर आने वाले स्पैम कॉल्स को चुटकियों में ब्लॉक किया जा सकता है। सबसे पहले आपको अपने मोबाइन फोन से 1909 डायल करना है। फोन पर मिलने वाले निर्देशों का पालन करें और Do Not Disturb ऑप्शन को एक्टिव कर दें। मैसेजिंग से ब्लॉक करने के लिए आप अपने मैसेज बॉक्स क्रिएट मैसेज ऑप्शन में जाए और यहां START 0 टाइप करके उसे 1909 पर सेंड कर दें। फिर आपने नंबर पर स्पैम कॉल्स नहीं आएंगे।

लेकिन ये तरीके पुराने हो गये थे जिसके बाद स्पैम कॉल लोगों को परेशान करते थे। इसी को देखते हुए ट्राई ने टेलीकॉम कंपनियों के साथ मिलकर आर्टिफिशियन इंटेलिजेंशन ब्लॉकर का यूज करके अनवांटेड कॉल और एसएमएस को बंद करने में मदद करेगा।

 

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!