कोहली-गंभीर की लड़ाई के अलावा इन 5 कंट्रोवर्सीज ने आईपीएल की इमेज की खराब!

Home   >   रनबाज़   >   कोहली-गंभीर की लड़ाई के अलावा इन 5 कंट्रोवर्सीज ने आईपीएल की इमेज की खराब!

94
views

लखनऊ के इकाना क्रिकेट स्टेडियम में IPL के 43वें मुकाबले में स्टार क्रिकेटर विराट कोहली और गौतम गंभीर के बीच हुई लड़ाई के बाद एक फिर IPL विवादों में आ गया है। हालांकि BCCI ने भले ही जुर्माना लगाकर लड़ाई को खत्म करने की कोशिश की है, पर ये लड़ाई खत्म होती नहीं दिख रही है। क्योंकि इससे पहले भी दोनों एक-दूसरे से भिड़ चुके हैं। वैसे तो साल 2008 में शुरू हुए IPL के 15 सीज़न बीत चुके हैं। लेकिन बिना कंट्रोवर्सी के कोई सीज़न नहीं बीता है। स्पॉट फिक्सिंग, स्कैंडल्स, खिलाड़ियों के बीच मारपीट तो कभी फ्रेंचाइजी ओनर की बदतमीजी की वजह से IPL में हमेशा कंट्रोवर्सी बनी रही है। तो आइये जानते हैं उन 5 कंट्रोवर्सीज के बारे में जिन्होंने IPL की लोकप्रियता पर बुरा असर डाला है।

हरभजन सिंह ने जड़ा श्रीसंत को थप्पड़

बात साल 2008 की है, पहले IPL सीज़न में ही बड़ी कंट्रोवर्सी हुई थी। 25 अप्रैल का दिन था, मैदान पर किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस की टीम के बीच मैच चल रहा था। मैच के दौरान मुंबई के हरभजन सिंह और पंजाब के श्रीसंत के बीच किसी बात को लेकर बहस हुई, धीरे-धीरे दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि हरभजन ने श्रीसंत को जोरदार थप्पड़ मार दिया। बाद में इस घटना पर काफी विवाद हुआ था, सजा के तौर पर IPL गवर्निंग काउंसिल ने हरभजन को उस पूरे IPL सीज़न के लिए बैन कर दिया था।

IPL चेयरमैन पर लगा लाइफटाइम बैन

ललित मोदी को IPL का फाउंडर माना जाता है, वे IPL के पहले प्रसिडेंट भी रहे हैं। IPL के दौरान उनपर अनुचित व्यवहार, इनडिसिप्लिन और फाइनेंसियल इररेगुलेरिटिज जैसे कई गंभीर आरोप लगे, जिसके बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था। बाद में BCCI की जांच में ललित मोदी पर लगे सभी आरोप सही साबित हुए, फिर साल 2013 में उनपर लाइफटाइम बैन लगा दिया गया। केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय यानी ED ने जब ललित मोदी के खिलाफ जांच शुरू की, उससे पहले ही वो लंदन भाग गए और अभी भी लंदन में ही रहते हैं।

शाहरुख खान पर लगा 5 साल का बैन

IPL में कंट्रोवर्सी सिर्फ खिलाड़ी और उसके चेयरमैन तक ही सीमित नहीं रहा है, बल्कि फ्रेंचाइजी के मालिक तक भी इससे नहीं बच सके हैं। बात साल 2012 की है, कोलकाता नाइट राइडर्स के को-ओनर शाहरुख खान ने मुंबई में एक मैच के दौरान वहां के एक सिक्योरिटी ऑफिसर से गाली-गलौज करते हुए खूब हंगामा मचाया था। बाद में एक्टर को इस रवैये के लिए स्टेडियम की एंट्री करने पर 5 साल का बैन लगा दिया गया था।

IPL पर स्पॉट फिक्सिंग का दाग 

जैसा की हम सभी जानते हैं IPL में खेलने वाले खिलाड़ियों को पूरी दुनिया की टी20 लीग्स में सबसे ज्यादा पैसा मिलता है। इसके बावजूद इस लीग पर फिक्सिंग का भी दाग लग चुका है। बात साल 2013 की है, दिल्ली पुलिस ने राजस्थान रॉयल्स टीम के तीन खिलाड़ी एस श्रीसंत, अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण को गिरफ्तार कर दिया था। बाद में चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक एन. श्रीनिवासन और उनके दामाद गुरुनाथ मयप्पन भी इस मामले में गिरफ्तार किए गए थे। फिर साल 2015 में सुप्रीम कोर्ट ने चेन्नई और राजस्थान की टीम पर 2 साल का बैन लगा दिया था। साल 2018 में बैन खत्म होने के बाद से दोनों टीमें लगातार हर IPL सीज़न में खेल रही हैं।

मांकडिंग कंट्रोवर्सी

इन सब कंट्रोवर्सी के अलावा मांकडिंग कंट्रोवर्सी ने IPL में खूब बवाल मचाया था। IPL में मांकडिंग तब चर्चा में आया था जब साल 2019 में किंग्स इलेवन पंजाब के कैप्टन रविचंद्रन अश्विन ने राजस्थान रॉयल्स के जॉश बटलर को आउट किया था। बटलर के आउट होने से ‘खेल की भावना’ पर बहस छिड़ गई और क्रिकेट जगत दो गुटों में बंट गया था, लेकिन तब अश्विन के फेवर में IPL के नियम थे इस वजह से कुछ दिनों बाद ये मामला शांत हो गया था।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!