ज्ञानवापी परिसर के सर्वे में IIT कानपुर की मदद लेगा ASI

Home   >   खबरमंच   >   ज्ञानवापी परिसर के सर्वे में IIT कानपुर की मदद लेगा ASI

115
views

ज्ञानवापी परिसर में सर्वे के लिए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) कानपुर से मदद मांगी है। कानपुर IIT के हेड ऑफ अर्थ एंड साइंस डिपार्टमेंट के प्रोफेसर जावेद एन मलिक (Professor Javed N. Malik) ने बताया कि ग्राउंड पेनिट्रेटिंग रडार (GPR) एक ऐसी तकनीक है, जिससे किसी भी वस्तु या ढांचे को छेड़े बिना उसके नीचे जले हुए कंक्रीट धातु पाइप केबल या दूसरी किसी भी वस्तुओं की पहचान की जा सकती है। इस तकनीक में इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडिएशन की मदद से ऐसे सिग्नल होते हैं, जो यह बताने में सक्षम हैं कि किसी भी वस्तु के आंतरिक हिस्से में क्या मौजूद है।

पिछले 12 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं। वैश्विक और राजनीतिक के साथ-साथ ऐसी खबरें लिखने का शौक है जो व्यक्ति के जीवन पर सीधा असर डाल सकती हैं। वहीं लोगों को ‘ज्ञान’ देने से बचता हूं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!