अपनी कॉमेडी से लोट-पोट कर देगी आयुष्मान खुराना की 'ड्रीम गर्ल-2'

Home   >   रंगमंच   >   अपनी कॉमेडी से लोट-पोट कर देगी आयुष्मान खुराना की 'ड्रीम गर्ल-2'

94
views

Ayushmann Khurrana और Ananya Panday की फिल्म Dream Girl-2 में कैसी है कॉमेडी, जानने के लिए पढ़िए ‘मंच’ मूवी रिव्यू

आयुष्मान खुराना और अनन्या पांडे स्टारर फिल्म ड्रीम गर्ल 2 रिलीज हो चुकी है। फैंस तभी से इस मूवी का इंतजार कर रहे थे जब से इसका टीजर सामने आया था। अगर आप भी फिल्म देखने का मन बना रहे हैं तो जान लीजिए ड्रीम गर्ल 2 में क्या है खास और कहां खाई मात

फिल्म की कहानी करमवीर यानी आयुष्मान खुराना की है। जो अपने प्यार परी से शादी करना चाहता है। लेकिन परी और करम के प्यार के दुश्मन बनकर परी के पापा यानी कि मनोज जोशी, करम के सामने शर्त रखते हैं कि वो अपनी बेटी का हाथ करम के हाथ में तब देंगे, जब उसके पास एक घर, 25 लाख रुपये बैंक बैलेंस और पक्की नौकरी होगी.जिसके लिए करम पूजा बनकर डांस करना शुरू करता है, लेकिन फिर ट्वीस्ट ये आता है कि 25 लाख की जरुरत पर उसे 50 लाख रुपए मिल रहे होते है, लेकिन इसके लिए पूजा को शाहरुख य़ानी अभिषेक बनर्जी से शादी करनी होगी। खैर, इतनी कहानी आप ट्रेलर में देख चुके हैं। लेकिन फिर कहानी में पूजा के सामने कई ऐसे मोड़ आते हैं, जो कहानी के हिसाब से काफी ट्वीस्ट लाते हैं।

डायरेक्टर राज शांडिल्य की ये फिल्म अपने स्टोरी सब्जेक्ट के हिसाब से काफी कॉमेडी को समेटे हुए है। हालांकि फिल्म का सेकेंड पार्ट कुछ खिंचा हुआ लगता है। फिल्म में कई दिग्गज कलाकार जैसे परेश रावल, राजपाल यादव , अभिषेक बनर्जी , सीमा पाहवा, और अन्नू कपूर है। जिन्होंने अपना रोल बखूबी निभाया भी है।

वहीं एज पूजा आयुष्मान खुराना की एक्टिंग की तारीफ बनती है। फिल्म के पहले पार्ट में उन्हें आवाज बदलनी थी, इस बार वो पूरा गेटअप बदले हुए है, साथ ही उन्होंने लड़की की तरह चलने और डांस के साथ ही पूजा और करम दोनों ही रोल को निभाने की कोशिश भी की है। वैसे तो आयुष्मान खुराना अपनी बेहतरीन एक्टिंग के लिए पहले ही जाने जाते है, लेकिन फिल्म में कई बार पूजा का गेटअप लेते हुए उनकी की गई बातें कुछ गैर जरुरी लगती है।

वहीं अनन्या पांडे की बात करें, तो फिल्म में उनका कोई बड़ा रोल नहीं है, उन्हें जितना भी स्क्रीन टाइम मिला है, उसमें वो सुंदर लगी है, लेकिन जब आस-पास इतने मंझे हुए कलाकार हों, तो एक्टिंग और भी एवरेज लगती हैं। बृज भाषा संवाद की डिलीवरी में भी वो लगातार स्ट्रगल करती दिखाई देती हैं।

फिल्म में कई बार ऐसा लगता है कि इसे खींचने की कोशिश की जा रही है, जो कहानी को थोड़ा कमजोर करती है। फिल्म के डायलॉग की बात करें, तो कई जगह आपको बिल्कुल फ्रेस कॉमेडी देखने को मिलेगी, कई बार आप हंसते-हंसते लोट-पोट हो जाएंगे, लेकिन कई बार आपको कॉमेडी तो लगेगी लेकिन उसमें बनावटीपन ज्यादा लगेगा।

वैसे जब भी किसी फिल्म का सीक्वल आता है, तो पहली फिल्म के साथ उसका कमपैरिजन जरुर होता है, तो अगर ड्रीम गर्ल-2 की बात करें, तो ड्रीम गर्ल का पहला पार्ट सेकेंड से कई जगह अच्छा है। ऐसा हमारा मानना है

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!