Bollywood Actor Anil Kapoor के Birthday पर जानिए उनकी Untold Story.

Home   >   किरदार   >   Bollywood Actor Anil Kapoor के Birthday पर जानिए उनकी Untold Story.

230
views

साल 1983 फिल्म वो सात दिन रिलीज होती है। फिल्म की यूएसपी थे जाने माने एक्टर नसीरुद्दीन शाह। उन्हीं के नाम से फिल्म का प्रमोशन किया गया। लेकिन जब लोग फिल्म का पहला शो देखकर थियेटर से बाहर निकले तो सबकी जुबां पर एक ही नाम था अनिल कपूर। इस 27 साल के नौजवान एक्टर को ये सफलता एक-दो नहीं बल्कि 12 साल के लंबे संघर्ष के बाद मिली।

बॉलीवुड सुपरस्टार अनिल कपूर का चार दशकों से जलवा कायम है। 24 दिसंबर 1956 को मुंबई में फिल्ममेकर सुरिंदर कपूर और निर्मला कपूर के घर जन्मे अनिल ने एक टीवी शो के दौरान अपने इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने टीनेज में ही तय कर लिया था कि वे एक्टिंग नहीं बिजनेस करेंगे। जब वे 17-18 के हुए तो पिता की तबीयत खराब हो गई। तो काम करना शुरू किया, बतौर एक्टर नहीं एक स्पॉटब्वॉय से। युवा और स्मार्ट दिखने की वजह से एक डायरेक्टर ने साल 1971 में एक अनरिलीजड फिल्म तू पायल मैं गीत फिल्म में यंग शशि कपूर का रोल दे दिया। इसके बाद 12 साल का लंबा संघर्ष का दौर शुरू हुआ। इन 12 सालों में फिल्म हमारे तुम्हारे में एक सपोर्टिंग रोल का काम किया। फिल्म एक बार कहो में एक और सपोर्टिंग रोल किया। इसके बाद फिल्म हम पांचऔर शक्तिमें कैमियो किया। इस दौर में एक-एक तेलुगु और कन्नड़ फिल्म भी की। साल 1983 अनिल कपूर को फिल्मों आए 12 साल हो चुके थे। अनिल कपूर के भाई बोनी कपूर वो सात दिन फिल्म बना रहे थे। इस फिल्म में वे 1982 में आई फिल्म डिस्को डांसर से लोगों के दिलों में छाए मिथुन चक्रवर्ती को साइन करना चाहते थे। लेकिन मिथुन चक्रवर्ती ने अपनी फीस बढ़ा ली। तब बोनी कपूर ने अपने भाई अनिल कपूर को लॉन्च करने को सोचा। खबर फैली तो तीन फाइनेंस और दो डिस्ट्रीब्यूटर ने फिल्म से किनारा कर लिया।फिर फिल्म को पिता सुरिंदर कपूर और बोनी कपूर ने प्रोड्यूस किया। अनिल कपूर के अपोजिट थीं पद्मिनी कोल्हापुरी और ग्रेट एक्टर नसीरुद्दीन शाह सपोर्टिंग रोल में। पहले तो नसीरुद्दीन शाह भी अनिल कपूर का नाम सुनकर फिल्म में काम करना नहीं चाहते थे। लेकिन बोनी कपूर की रिक्वेस्ट पर वे माने। बोनी कपूर को लगता था नसीरुद्दीन शाह के होने से फिल्म डिस्ट्रीब्यूटर्स को बेच सकते हैं, क्योंकि अनिल कपूर को कोई नहीं जानता था। साल 1983 को अनिल कपूर की दो फिल्म रचनाऔर वो सात दिनदिन आई। रचना तो फ्लॉप थी लेकिन वो सात दिनने वो कमाल किया जिसके बाद से अनिल कपूर ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। 12 साल चले लंबे संघर्ष भी खत्म हो चुका था। इसके बाद अपने 40 साल के करियर में उन्होंने एक से बढ़कर एक कई सुपहिट फिल्में दी। अभी भी वे अपने यंग और डैसिंग दिखते हैं और आज के जेनेरेशन के कई एक्टर चुनौती देते है। उनकी आने वाले फिल्मों की बात करें तो वे ऋतिक और दीपिका के साथ फिल्म फाइटर में जल्द ही दिखेंगे।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!