द केरल स्टोरी पर CBFC ने 'भारतीय' शब्द पर लगाई रोक, एडिट हुए 10 सीन!

Home   >   रंगमंच   >   द केरल स्टोरी पर CBFC ने 'भारतीय' शब्द पर लगाई रोक, एडिट हुए 10 सीन!

96
views

5 मई को रिलीज के लिए तैयार द केरल स्टोरी का विरोध फिल्म बैन करने की मांग और कहानी पर सवाल लगातार जारी है। लेकिन इसी बीच अब फिल्म को सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने ए सर्टिफिकेट देकर पास कर दिया है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट में जिक्र है कि फिल्म के 10 सीन्स में कट भी लगाया गया है।

द केरल स्टोरी के 10 सीन एडिट करने की बात निकलकर सामने आई है, जिसमें केरल के पूर्व सीएम का बयान कि केरल अगले दो दशकों में एक इस्मालिक स्टेट बन जाएगा, वाला सीन भी एडिट हुआ है। वहीं फिल्म से इस टीवी इंटरव्यू के सभी सीन्स हटाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कई मीडिया साइट्स पर जिक्र है कि फिल्म से वो सीन हटाए गए हैं, जोकि सांप्रदायिक सौहाद्र के लिहाज से सही नहीं थे। जिन सीन्स में हिंदू देवी-देवताओं के बारे में कुछ गलत या आपत्तिजनक डायलॉग्स थे, उन्हें भी बदलने की बात कही गई है। इसके अलावा कथित रुप से एक डायलॉग कि भारतीय कम्युनिस्ट सबसे बड़े पाखंडी हैं, सेंसर बोर्ड ने भारतीय शब्द को हटाने के निर्देश दिए हैं।

वैसे मुस्लिन यूथ की केरल स्टेट कमेटी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्टर शेयर किया, जिसमें उन्होंने लिखा है कि 32 हजार केरलवासी लड़कियों ने धर्म परिवर्तन किया और सीरिया चली गईं। जो भी इस बात को साबित करेगा। कमेटी उसे 1 करोड़ रुपये का इनाम देगी। इसके लिए 4 मई को केरल के हर जिले मे संग्रह केंद्र खोले जाएगें जिनमें कोई भी सबूत डाल सकता है।

वहीं, फिल्म के डायरेक्टर सुदीप्तो सेन ने कहा कि आप 32000 नंबर में बिजी है, तो प्लीज फिल्म देखें। मैं 7 साल से इस सब्जेक्ट पर काम कर रहा हूं। साथ ही सुदीप्तो सेन ने ये भी बताया कि जब वो केरल के कन्नूर में थे, तो होटल में सभी पर अटैक हुए। इसकी खबर उन्होंने पुलिस को इसलिए नहीं दी क्योंकि वो चीजों को ज्यादा बढ़ाना नहीं चाहते थे। फिल्म के प्रोड्यूसर और डायरेक्टर का कहना है कि उन्हें लगा था कि 32000 लड़कियों पर डिबेट होगी, उनकी परेशानियों पर बात होगी। लेकिन ये दुख की बात है कि ऐसी बातें हो रही हैं। हालांकि उनका ये भी कहना है कि लड़कियों के ये आकंडे इससे भी ज्यादा है।

वहीं, फिल्म में लीड रोल प्ले कर रही अदा शर्मा का कहना है कि हमने केरल को बेहद खूबसूरती से फिल्म में दिखाया है। ऐसा नहीं है कि पूरा केरल ही बुरा है। आप जब फिल्म देखेंगे, तो खुद को इससे कनेक्ट कर पाएंगे। मैं शूट के दौरान पीड़ित लड़कियों से मिली हूं। कई बार शूट के दौरान मैंने उनकी कहानी को महसूस किया और डर गई।

द केरला स्टोरी का ट्रेलर जब 26 अप्रैल को रिलीज हुआ था तब से ही फिल्म को बैन करने की मांग उठने लगी थी, क्योंकि फिल्म में केरल की 32000 लड़कियों को मैनिपुलेट कर इस्लाम धर्म में परिवर्तित कर सीरिया ले जाकर जबरन तरीके से ISIS में शामिल कराया जाता है। इसे केरल की सच्चाई बताया गया है। जबकि इसका विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि ये एक मनगढ़ंत कहानी है। फिल्म 5 मई को रिलीज हो रही है।  

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!