अतीक के हत्यारों का इतिहास जिन्होंने प्रयागराज शूटआउट केस को दिया अंजाम

Home   >   खबरमंच   >   अतीक के हत्यारों का इतिहास जिन्होंने प्रयागराज शूटआउट केस को दिया अंजाम

112
views

एक था अतीक... ये बात इसलिए क्योंकि माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की कई राउंड फायरिंग कर हत्या कर दी गई.... ये हत्याकांड तब हुआ.... जब पुलिस भारी सिक्योरिटी में उन्हें मेडिकल के लिए ले जा रही थी.... बीच में अतीक और अशरफ मीडिया से बातचीत के लिए रुके थे.... तभी प्वाइंट ब्लैक रेंज पर तीन लोगों ने दोनों को शूट कर दिया...इसका वीडियो सामने आती है...तो प्रयागराज ही नहीं पूरे देश में सनसनी फैल गई... गौर करने वाली बात है तीन आरोपी जो पकड़े गए उन्होंने खुद को सरेंडर कर दिया और जय श्री राम के नारे भी लगाए... तीनों आरोपी प्लानिंग के तहत सामने आए थे.. जिनसे अब पुलिस पूछताछ कर रही है...पुलिस की अब तक की जांच में पता चला है कि ये वारदात अचानक नहीं, बल्कि सोची समझी साजिश के तहत अंजाम दी गई.....इसके लिए हत्यारे 48 घंटे पहले से आकर नगर के एक होटल में ठहरे हुए थे.... पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ के बाद पुलिस ने रविवार की अल सुबह उस होटल में तलाशी भी कराई गई है....अब तक की पूछताछ में पता चला है कि अतीक अशरफ की हत्या करने वाला लवलेश तिवारी बांदा का रहने वाला है जबकि अरुण मौर्य हमीरपुर का निवासी है....तीसरा आरोपी सनी कासगंज जनपद से है....तीनों हमलावर शातिर किस्म के अपराधी हैं....कम उम्र में ही उन्होंने क्राइम की दुनिया में कदम रख दिया था... तीनों ही हत्या, लूट सहित कई संगीन आरोपों में लिप्त रह चुके हैं...

कानपुर का हूं, 8 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं, पॉलिटिक्स एनालिसिस पर ज्यादा फोकस करता हूं, बेहतर कल की उम्मीद में खुद की तलाश करता हूं.

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!