IB71 Film Review: भारत के ऑपरेशन 'गंगा' पर बनी फिल्म अनसंग हीरोज की कहानी

Home   >   रंगमंच   >   IB71 Film Review: भारत के ऑपरेशन 'गंगा' पर बनी फिल्म अनसंग हीरोज की कहानी

84
views

विद्युत जामवाल की एज प्रोड्यूसर पहली फिल्म IB 71 आज थियेटर्स में रिलीज हो गई। फिल्म की कहानी विद्युत के रोल के इर्द-गिर्द रहती है। लेकिन इस बार वो फिल्म में अपने फिजिकल एक्शन और स्टंट्स से ज्यादा इंटैलिजेंस का यूज रोल में करते नजर आएगें। बाकी फिल्म में क्या आम और खास है।

फिल्म आईबी71 एक रियल इवेंट पर बनी है। साल 1971 में इंडिया-पाक के बीच हुए वॉर से पहले पर बेस्ड है। फिल्म की स्टोरी एक ऐसे मिशन की है, जहां पर आईबी ऑफिसर्स की वजह से बिना गोली चलाए भारत की एक बहुत बड़ी प्रॉब्लम सॉल्व हो जाती है। इसमें भारत के 40 लोग शामिल बताए जाते हैं। जो फिजिकल स्टैंथ से ज्यादा अपनी इंटेलिजेंस का यूज करते हैं और बड़ी चालाकी से पाकिस्तान की बेवकूफ बनाते था।

जैसा कि हमने बताया कि ये कहानी इंडिया-पाक जंग के पहले की, जब भारत को पता चलता है कि आने वाले 10 दिनों के बाद पाकिस्तान कभी भी इंडिया पर हमला कर सकता है। वॉर की तैयारी के लिए पाकिस्तान एयरफोर्स के विमानों को वेस्ट से उड़कर ईस्ट पाकिस्तान में अपने फाइटर प्लेन तैनात करना चाहता है और चुनौती ये है कि इसके लिए पाकिस्तान को भारत के ऊपर से ही उड़ कर जाना होगा। 

इसके बाद यहां से मेन स्टोरी स्टार्ट होती है। भारत के पास इस जानकारी के पहुंचने के बाद आईबी ऑफिसर्स प्लान बनाते हैं कि किसी भी तरह अगर वो इंडियन एयरस्पेस को ब्लॉक कर दें तो वॉर जीत सकते हैं। लेकिन ये होना तभी मुमकिन है जब पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान एक्ट ऑफ वॉर का ऐलान कर दे।

फिर इसके लिए मिशन क्या बनता है, इसे कैसे एग्जिक्यूट किया जाता है। कैसे प्लेन को हाईजैक करने का प्लान बताना जाता है, इसे ही लेकर फिल्म तैयार की गई है।

बाकी फिल्म का फर्स्ट हाफ किरदारों और प्लान का बैकग्राउंड तैयार करने में खर्च होता है। तो वहीं दूसरे पार्ट में देशभक्ति वाली फीलिंग से रोगंटे खड़े हे सकते है।

फिल्म बनाने का आइडिया खुद फिल्म के हीरो और प्रोड्य़ूसर विद्युत जामवाल का था। फिल्म को डायरेक्शन दिया है संकल्प रेडडी ने। जिनके बेहेतरीन काम को हम गाजीपुर अटैक फिल्म में देख चुके है। लेकिन फिल्म में कुछ जगहों पर रोमांच कुछ कम लगता है।

अब फिल्म के मेन कैरेक्टर्स के बारे में बात कर लेते हैं। फिल्म में विद्युत जामवाल ने देव नाम के एक आईबी ऑफिसर का रोल में हैं। उन्होंने अच्छा काम किया है और खास बात ये है कि इस बार वो अपने एक्शन से अलग रोल में दिखे हैं। IB चीफ अवस्थी के रोल में अनुपम खेर ने भी अच्छा काम किया है। लेकिन सबसे ज्यादा इम्पेसिव रोल रहा विशाल जेठवा का। विशाल की दमदार एक्टिंग को हम मर्दानी 2 में भी देख चुके है, उस रोल के लिए बेस्ट मेल डेब्यू का फिल्म फेयर अवार्ड भी मिला था और इस रोल के लिए आडियंस की तारीफें मिलना पक्का है, क्योंकि वो अपनी अदायकी से फिल्म में जान डालते दिखते हैं।

बाकी अगर आप फिल्म में लड़ाई-वॉर देखने के मंशा लेकर थियेटर्स जा रहे हैं तो ये आपको निराश कर सकती है। लेकिन फिल्म इंडिया के अनसंग हीरोज की कहानी है, जिनके ऊपर काफी झानबीन कर फिल्म बनाई गई है तो आप इसे एक बार देख सकते हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!