क्या साउथ इंडस्ट्री में भी है नेपोटिज्म का बोलबाला?

Home   >   रंगमंच   >   क्या साउथ इंडस्ट्री में भी है नेपोटिज्म का बोलबाला?

67
views

कहते हैं जब हम अपनी पसंदीदा चीज को भी ज्यादा गौर से देखते हैं उसमें भी खामियां नजर आने लगती हैं। बॉलीवुड इडस्ट्री का हाल किसी से छुपा नहीं है। पहले की तुलना में फिल्में अब कम पसंद की जा रही हैं। जहां नेपोटिज्म को इसके पीछे एक बड़ा कारण बताया जाता है, तो रीमेक, कमजोर कहानी और भी कई चीजें इसके पीछे की बड़ी वजहें हैं। इंडियन साउथ इडस्ट्री की फिल्में पिछले कुछ सालों में काफी पसंद की गई हैं, और इसका सिलसिला भी लगातार जारी है। लेकिन क्या आपको साउथ के उन घरानों के बारे में पता हैं, जो पीढ़ी दर पीढ़ी फिल्मी जगत में ही अपनी पहचान बना रहें हैं।

बॉलीवुड वर्सेस साउथ ये एंगल लोगों को काफी पसंद आता है, लेकिन कई बार कई साउथ इंडियंस सुपरस्टार्स से जब साउथ इडस्ट्री में नेपोटिज्म को लेकर बात पूछी गई तो स्टार्स ने बड़ी बेबाकी से इस बात को स्वीकारा कि साउथ इडस्ट्री में भी कई बार ऐसा देखने को मिलता है।  

पिछले दिनों जब स्टार किड्स वर्सेस आउटसाइडर्स की बात निकलकर आई तो सिनेमाघरों में फिल्मों के बायकॉट के साथ ही सोशल मीडिया में भी इस मुद्दे पर बहस शुरू हो गई थी, तो चलिए आज साउथ के घरानों के बारे में जानते हैं, जिनकी पीढी दर पीढी फिल्मी दुनिया का ही हिस्सा है।

फिल्म आरआरआर के लिए ऑस्कर के मंच तक जा चुके राम चरण साउथ सिनेमा के सबसे हाईएस्ट पेड एक्टर्स में से एक हैं। राम चरण साउथ सिनेमा की सबसे बड़ी फैमिली से ताल्लुक रखते हैं, तीन पीढ़ी से राम चरण की फैमिली साउथ इडस्ट्री का हिस्सा है। उनकी मां तमिल फिल्म इडस्ट्री में रुतबा रखने वाले प्रोड्यूसर, एक्टर अल्लू राम लिंगैया की बेटी है। तो राम चरण के पिता चिरंजीवी किसी के परिचय के मोहताज नहीं हैं, वो भी बड़े सुपरस्टार्स में गिने जाते हैं।

इसी के साथ पुष्पा फिल्म से पूरे इंडिया फेवरेट बनने वाले अल्लू अर्जुन भी अपने फिल्मी परिवार की तीसरी पीढ़ी हैं। अल्लू अर्जून, राम चरण के कजिन भी हैं। अल्लू अर्जून के दादा अल्लू रामलिंगैया साउथ इडस्ट्री का बड़ा चेहरा रह चुके हैं। तेलुगू सिनेमा में बेहतरीन काम के लिए साल 1990 में उन्हें पद्म श्री अवॉर्ड भी मिल चुका है। तो अल्लू अर्जून के पिता अल्लू अरविंद एक जाने-माने फिल्म निर्माता रह चुके हैं। तो वहीं अल्लू अर्जुन के भाई अल्लू सिरीश भी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं।

इसी के साथ ही फिल्म प्रोड्यूसर दग्गुबती रामानायडू की फैमिली भी साउथ इडस्ट्री में काफी रुतबा रखते हैं। 1964 में उन्होंने सुरेश प्रोडक्शन की नीव रखी थी। दग्गुबती रामानायडू के तीन बच्चे हैं, जो फिल्मी पर्दे पर अपनी पहचान रखते हैं। दो भाई और बहन लक्ष्मी सुरेश, जिनकी शादी नागार्जुन से हुई और उनका बेटा नागा चैतन्य है। इस फैमिली के भी ज्यातार लोग फिल्मी जगत का ही हिस्सा हैं।  

तो वहीं सिर्फ साउथ इंडस्ट्री में ही नहीं बल्कि बल्कि पूरे इंडिया में एक्टर रजनीकांत को सुपरस्टार का दर्जा प्राप्त है। एक्टर की फिल्म के लिए थियेटर्स के बाहर लाइने लग जाती हैं। सुपरस्टार रजनीकांत तकरीबन 160 फिल्मों में काम करके लोगों के दिल में जगह बना चुके हैं। हालांकि वो एक साधारण परिवार से ही बिलांग करते थे, उनकी मां हाउसवाइफ और पिता पुलिस कॉन्सटेबल थे। सुपरस्टार रजनीकांत की दो बेटिया ऐश्वर्या और सौन्दर्या डायरेक्शन की दुनिया में नाम कमां रहीं हैं।

वैसे बता दें, सुपरस्टार रजनीकांत की बड़ी बेटी ऐश्वर्या की शादी अपनी एक्टिंग के जाने-जाने वाले धनुष के साथ हुई थी, हालांकि 2022 में दोनों अलग भी हो चुके हैं। बाकी साउथ इडस्ट्री में और भी सितारें है, जिनका फिल्मी बैकग्राउंड है। वहीं कई एक्टर्स ऐसे भी है जो अपनी बिना फिल्मी बैकग्राउंड के भी काफी फेमस हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!