कंगना रनौत क्यों फिल्मों और बयानों दोनों के लिए रहती हैं चर्चा में

Home   >   रंगमंच   >   कंगना रनौत क्यों फिल्मों और बयानों दोनों के लिए रहती हैं चर्चा में

138
views

 

हिमाचल प्रदेश की एक छोटी सी जगह मंडी जिसे छोटी काशी भी कहते है....वहां से सिर्फ 16 साल की उम्र में घर छोड़ने का फैसला करने वाली लड़की आज बॉलीवुड की क्वीन है। अपने हर रोल में अदायकी की काबिलियत दिखाने वाली 23 मार्च 1987 को जन्मी कंगना रनौत.....अब अपना 36वां बसंत सेलीब्रट कर रही हैं। इस मौके पर सोशल मीडिया पर उन्होंने अपने पेरेंट्स के साथ सभी सपोटर्स को शुक्रिया कहा है। कंगना रनौत ने कई फिल्मों में अपनी अदाकारी से ऑडियंस के दिलों में जगह बनाई, लेकिन उनके बेबाकी वाले किरदार के लिए भी हम उनको जानते हैं। जिसके लिए वो कई बार ट्रोल भी हो चुकी हैं।

कंगना रनौत के लिए फिल्मी दुनिया का सफर आसान नहीं था। शुरुआती सफर में कई उतार-चढ़ाव के बाद साल 2006 में कंगना रनौत ने अनुराग बासु के डायरेक्शन में तैयार हुई फिल्म गैंगस्टर से अपने फिल्मी सफर की शुरुआत की। फिल्म के लिए उन्हें फिल्म फेयर फॉर बेस्ट फीमेल डेब्यू अवार्ड भी मिला। फिर साल 2006 में ही फिल्म वो लम्हें, 2007 में लाइफ इन मेट्रो और 2008 में फैशन के लिए खूब तारीफें और फिल्म फेयर फॉर बेस्ट सपोर्टिंग रोल अवार्ड भी जीता। फिर साल 2009 में कंगना रनौत ने राज द मिस्ट्री कंटिन्यू से बेस्ट एक्ट्रेस बनने की सीढियां चढ़ना शुरु किया। इसके बाद वंस आपोन अ टाइम इन मेंट्रो, तनू वेड्स मनू, पंगा, क्वीन और कई हिट फिल्मों में एक्टिंग से बॉलीवुड की फाइन एक्टर्स में गिनी जाने लगीं।

लेकिन ऋतिक रोशन के साथ पर्सनल लाइफ मैटर हो या नेपोटिज्म पर बात हो। कंगना रनौत ने पूरी बेबाकी के साथ खुद को प्रकट किया। बात साल 2014 की है, जब कंगना रनौत ने बयान दिया था कि असली आजादी साल 2014 में मिली थी। 1947 में आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी और जो आजादी मिली है वह 2014 में मिली। कंगना रनौत ने यहां तक कह दिया था कि सावरकर, रानी लक्ष्मीबाई, नेता सुभाषचंद्र बोस इन सब लोगों की बात करूं तो ये लोग खूब जानते थे कि खून बहेगा।

हालांकि उस बातचीत में मौजूद एंकर ने जब कहा कि इसलिए ही आपको सभी भगवा कहते हैं। तब कंगना रनौत ने हंसते हुए कहा था कि अभी इस बात पर ही मुझपर 10 केस होने वाले हैं। उस समय कंगना रनौत की खूब ट्रोलिंग हुई थी, ट्विटर बंद होने पर कंगना ने इंस्टाग्राम पर लोगों ट्रोलर्स को जवाब दिए थे।

उसके बाद साल 2020 में कंगना रनौत और महाराष्ट्र के उस समय के सीएम उद्धव ठाकरे के बीच जंग झिड़ गई थी। तब बीएमसी ने कंगना रनौत का ऑफिस तोड़ा था। जिसके बाद उद्धव ठाकरे को कंगना का जवाब था कि उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है तूने फ़िल्म माफ़िया के साथ मेरा घर तोड़ कर मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है। आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा।

कंगना रनौत के ऑफिस तोड़े जाने के बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई को स्टे दे दिया था। जिसे सोशल मीडिया पर कंगना रनौत की जीत समझा जा रहा था। इसी के साथ कंगना रनौत ने बॉलीवुड में नेपोटिज्म के मुद्दे पर काफी बात की। करण जौहर के शो पर जाकर उन्हें मूवी माफिया तक दिया था। साथ ही कहा कि वो नेपोटिज्म के सबसे बड़े पक्षधर हैं, जो आउटसाइडर्स को बिल्कुल बर्दाश नहीं पाते हैं। सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में भी कंगना रनौत ने नेपोटिज्म और एक्टर की मौत के लिए जिम्मेदार लोगों पर खूब बात की थी। इसी बीच क्वीन कंगना की Y प्लस सिक्योरिटी के घेरे के अंदर स्वैग वाले वीडियोज ने सोशल मीडिया पर उन्हें हिट बनाया हुआ था।

कंगना रनौत हाल ही में नवाजुद्दीन सिद्दीकी और वाइफ आलिया वाले केस में नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ हो रहे गलत विहेवियर पर बात कर चुकी हैं। साथ ही ऑस्कर्स में दीपिका पादुकोण ने जिस तरह से इंडिया को प्रेजेंट किया, उसकी भी तारीफ की थी। कंगना रनौत को एक्टिंग के दीवानों के साथ ही उनके ओपिनियंस के लिए भी लोग उन्हें जानते हैं। कंगना नेशनल फिल्म अवार्ड के साथ ही पॉच फिल्म फेयर अवार्ड भी जीत चुकी है। साथ ही पद्म श्री से भी सम्मानित की जा चुकी हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!