गायक केके के बारे में जानें: अपनी आवाज से दिलों को मंत्रमुग्ध कर देने वाले

Home   >   किरदार   >   गायक केके के बारे में जानें: अपनी आवाज से दिलों को मंत्रमुग्ध कर देने वाले

63
views

गायक केके की मनोरम यात्रा की खोज करें, जिनकी मंत्रमुग्ध कर देने वाली आवाज़ गायक केके की संगीत विरासत के नवीनतम अपडेट के लिए Manchh न्यूज़ पर बने रहें।

म्यूजिक कॉन्सर्ट में एक सिंगर अपने गानों से समां बांध रहे थे। उनके सामने हजारों की भीड़, जो मस्ती में झूम रही थी। किसी को भी अंदाजा नहीं था, आने वाले कुछ मिनटों में ही सिर्फ 53 साल का ये सिंगर दुनिया छोड़कर जाने वाला है।

वो सिंगर जिनकी आवाज का जादू सब पर चला। जिन्होंने दोस्ती, प्यार, खुशी, गम, अकेलापन, जिंदगी के हर चेहरे को अपनी आवाज दी। वो सिंगर जो उसूलों के पक्के थे। किसी गाने में कुछ पसंद नहीं आया तो उसे गाने से मना कर दिया। एक करोड़ रुपये का ऑफर मिलने के बाद भी किसी शादी में नहीं गाया। 

आज कहानी सिंगर केके की। जो खुद केके यानी किशोर कुमार की आवाज के दीवाने थे। इनकी निजी जिंदगी भी दिलचस्प है। बचपन की दोस्त से शादी करनी थी, जो म्यूजिक छोड़कर सेल्समैनी करने लगे।

एक मलयाली परिवार से ताल्लुक रखने वाले सीएस नायर अपनी पत्नी कुन्नाथ कनकावली के साथ दिल्ली में रहते। इन्हीं के घर 23 अगस्त, साल 1968 को कृष्ण कुमार कुन्नाथ का जन्म हुआ। जिन्हें सब प्यार से केके कहते।

शुरुआती पढ़ाई दिल्ली के माउंट सेंट मैरी स्कूल और ग्रेजुएशन दिल्ली यूनिवर्सिटी के किरोड़ीमल कॉलेज से किया।

केके पढ़ाई में अच्छे थे लेकिन जब गाना गाते तो इनकी आवाज का जादू सब पर चल जाता। स्कूल में गाने गाए तो अवार्ड मिले और कॉलेज की कैंटीन में गाने गाए तो तारीफें मिलीं।

उन्होंने म्यूजिक की कोई ट्रेनिंग नहीं ली थी पर वो लिजेंड्री सिंगर किशोर कुमार से प्रभावित थे, दिन रात उन्हीं के गाने गाते और यही उनका रियाज बना।

20-22 साल की उम्र में उन्होंने दो ख्वाब देखे। पहला सिंगर बनने का और दूसरा अपनी बचपन की दोस्त ज्योति कृष्णा से शादी करने का। दोनों ख्वाब सच हों, ये इतना आसान नहीं था।

दरअसल केके बचपन की दोस्त ज्योति कृष्णा से प्यार करते थे। शादी के लिए दिक्कत ये थी, वो सिर्फ ग्रेजुएट थी। उनके पास कोई नौकरी नहीं थी। घर वालों को लगा सिर्फ गाना गाने भर से जिंदगी कैसे चलेगी।

इसलिए शादी के लिए शर्त रख दी की पहले कोई नौकरी करो और फिर शादी। ज्योति के लिए केके सिंगिंग छोड़ एक कंपनी में सेल्समैन बन गए। साल 1991 में दोनों की शादी हो गई। दोनों के एक बेटा नकुल और एक बेटी तामरा हुए।

इधर सिंगर बनने का ख्वाब पीछे छूट रहा था। वो सेल्समैन की नौकरी से ऊब गए। पत्नी और माता-पिता का साथ मिला तो, केके नौकरी छोड़कर पूरा समय सिंगिंग को देने लगे।

अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक छोटा सा रॉक बैंड बनाया। दिक्कत थी दिल्ली में परफॉर्मेंस के बाद पैसे कम मिलते थे। वो निराश हो गए। और मुंबई जाने का फैसला किया।

केके साल 1994 में मुंबई पहुंचे और जिंगल्स गाने लगे। देखते ही देखते साल दर साल करीब साढ़े तीन हजार से ज्यादा जिंगल्स गा दिए। इसी वजह से वो बॉलीवुड म्यूजिक डायरेक्टर की निगाहों में आए।

सबसे पहले सिंगर Hariharan, Suresh Wadkar, Vinod Sehgal के साथ साल 1996 में रिलीज हुई फिल्म माचिस का गाना ‘छोड़ आए हम वो गलियां’ गाया।

इसके बाद कन्नड़, बंगाली, मलयालम, गुजराती भाषा में गाने गाए। मुंबई में आए हुए लगभग पांच साल बीत चुके थे लेकिन अभी तक वो नाम नहीं मिला था।

केके म्यूजिक कंपोजर Leslie Lewis को अपना गुरु मानते थे। क्योकि यही वो शख्स थे जिन्होंने केके को साल 1999 में रिलीज हुआ एलबम ‘पल’ में गाने का मौका दिया। इस एलबम के दो गाने ‘यारों’ और ‘पल’ बेहद पॉप्युलर हुए।

इसी साल रिलीज हुई – ‘हम दिल दे चुके सनम’। इस फिल्म के गाने ‘तड़प – तड़प’ के बाद तो केके बुलंदियों पर पहुंच गए।

आने वाले वक्त में केके ने करीब सात सौ से ज्यादा गाने गए। चाहे जो भी गाना हो, किसी भी थीम पर हो, केके ने उसे इतना महसूस करके गाया कि लोग उनके दीवाने हो गए।

वो इंडियन सिनेमा के बेस्ट सिंगर्स में शामिल हो गए। ‘मेलोडी किंग’ का खिताब मिला। केके की आवाज की वजह से कितने ही स्टार सुपर स्टार बन गए। वो भी वक्त आया जब वो गाना गाने लिए सबसे ज्यादा फीस लेते। 

आज के दौर में कई कलाकार इवेंट्स और शादियों में परफॉर्म करने के लिए मोटी रकम वसूलते हैं, पर केके की सोच बिल्कुल उलट थी। एक बार तो एक शादी में गाना गाने के लिए एक करोड़ रुपये ऑफर हुए, पर उन्होंने मना कर दिया।

पर वो म्यूजिक कॉन्सर्ट में परफॉर्म करते थे। ऐसे से ही एक म्यूजिक कॉन्सर्ट के लिए वो कोलकाता गए थे। परफॉर्मेंस के वक्त  उनकी तबीयत बिगड़ी और वो गिर पड़े। अस्पताल ले गए तो डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 31 मई, साल 2022 वो दिन जब केके सिर्फ 53 साल की उम्र में दुनिया छोड़कर चले गए थे। वो अपनी आवाज से सजे कुछ बेहतरीन नगमे छोड़ गए हैं। जो हमेशा उनकी याद दिलाते रहेंगे।

एक संयोग ही कहेंगे कि उन्होंने करियर का पहला सोलो गाना - तड़प-तड़प कर, जो सुपरहिट हुआ वो सलमान खान के लिए गया था और उन्होंने अपना आखिरी गाना भी सलमान खान की फिल्म टाइगर – 3 के लिए गाया। टाइगर – 3 साल 2023 में नवंबर में रिलीज होगी।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!