दिल्ली-मुंबई में मानसून ने दी एक साथ दस्तक

Home   >   खबरमंच   >   दिल्ली-मुंबई में मानसून ने दी एक साथ दस्तक

134
views

दक्षिण-पश्चिम मानसून इस साल दिल्ली और मुंबई में एक साथ दस्तक दे रहा है। मौसम विशेष्ज्ञों का कहना है कि इस साल मानसून में असामान्य बदलाव देखने को मिले हैं। 62 साल के बाद ऐसा हुआ है कि दिल्ली और मुंबई में ये मानसून एक साथ पहुंचा है। जबकि आमतौर पर ये मानसून पहले मुंबई पहुंचता है। लेकिन इस बार अरब सागर में इसके कमजोर पड़ने के चलते ये दिल्ली और मुंबई दोनों जगह एक साथ दस्तक दे रहा है।

मौसम विभाग की जानकारी के मुताबिक ऐसा आखिरी बार 21 जून 1961 को हुआ था। तब भी दिल्ली और मुंबई में एक ही समय पर मानसून आया था। वैसे बतां दे, दोनों शहर के बीच करीब 1430 किलोमीटर का फासला है। मौसम विशेष्ज्ञ बताते हैं कि आमतौर पर दक्षिण पश्चिम मानसून की शुरूआत दक्षिण से होती है। मानसून केरल, तमिलनाडू, कर्नाटक से होता हुआ। महाराष्ट्र पहुंचता है। यानी कि पहले मानसून दक्षिण के राज्यों में पहुंचता है। फिर देश के बाकी हिस्सों में पहुंचता है।

जबकि इस साल देखा जा रहा है कि मानसून पहले पूर्वी राज्यों में पहुंचा और फिर दक्षिण के राज्यों में हालांकि इंडियन मैट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट के मुताबिक, अब मानसून तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है और आने वाले 48 घंटों में मध्य प्रदेशउत्तर प्रदेशमहाराष्ट्र के साथ ही जम्मू कश्मीरहिमाचल प्रदेशउत्तराखंड पहुंच जाएगा।

इंडियन मैट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट द्वारा जारी इस फोटो में जो ब्लू लाइन्स आप देख रहे हैं, वो मानसून की दिशा को बताती है। वैसे मौसम एक्सपर्ट्स की माने तो चक्रवाती तूफान बिपरजॉय की वजह से इस साल मानसून असामान्य रहा। बिपरजॉय तूफान 15 जून को गुजरात के तट से टकराया था। बिपरजॉय की वजह से पश्चिमी तट पर मानसून के आगे बढ़ने की रफ्तार धीमी हुई थी।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक इंडिया में मानसून दो डायरेक्शन से देश को कवर करता है। एक अरब सागर से देश के पश्चिमी हिस्सों को और दूसरा बंगाल की खाड़ी से देश के पूर्वी हिस्सों को। लेकिन इस साल बिपरजॉय की वजह से अरब सागर से पश्चिमी राज्यों में पहुंचने वाला मानसून देरी से पहुंचातो इसी के साथ बंगाल की खाड़ी से बनने वाला मानसून अपने समय से पूर्वी राज्यों में पहुंच गया। यही कारण बताया जा रहा है कि इस साल मानसून असामान्य रहा और पूर्वी राज्यों में पहले बारिश हुई। 

इसी के साथ मौसम विभाग ने मुंबई के कुछ इलाकों में यलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, जहां पर पिछले 24 घंटे से बारिश हो रही है। इस बारिश के चलते फ्लाईओवर पर पानी भर गया तो वहीं शहर के कुछ हिस्सों के लिए यलो और कुछ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग के मुताबिकदेश के करीब 23 राज्यों में अगले चार दिन भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है। ये मानसून अनुमान के भले ही 7 दिन देरी से दाखिल हुआ हो, लेकिन बीते शानिवार रो एक दिन में ये 6 राज्यों मध्य प्रदेशउत्तराखंडहिमाचल प्रदेशहरियाणाजम्मू-कश्मीरलद्दाख में पहुंच गयातो वहीं इसी असामान्य मौसम के चलते केदारनाथ धाम की यात्रा को कुछ समय के लिए रोक दिया गया है। 

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!