किसी ने बताया बॉस, तो किसी ने छुए पांव, क्योंकि...यूं ही नहीं कोई नरेंद्र मोदी बन जाता !

Home   >   मंचनामा   >   किसी ने बताया बॉस, तो किसी ने छुए पांव, क्योंकि...यूं ही नहीं कोई नरेंद्र मोदी बन जाता !

152
views

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता लगातार बढ़ती जा रही है। इसकी ताजी तस्वीर जी7 शिखर सम्मेलन में देखने को मिली। एक तरफ जहां ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में रह रहे भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करने के दौरान प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज ने पीएम नरेंद्र मोदी को बॉस कहा। तो वहीं पिछले दिनों पापुआ न्यू गिनी के पीएम जेम्स मारापे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पैर छुए और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पीएम मोदी का ऑटोग्राफ मांग लिया। इससे दुनिया में भारत की ताकत का शानदार मैसेज गया है।

जी 7 शिखर सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी जबरदस्त छाए हुए हैं। सोशल मीडिया से लेकर विदेशी मीडिया कवरेज में भी भारत की ताकत का एक बड़ा मैसेज पहुंच रहा है। इसका ताजा उदाहरण है पीएम मोदी का पापुआ न्यू गिनी पहुंचते ही ग्रैंड वेलकम होना, जिसे दुनिया देखती रह गई। ये शायद ही पहले कभी हुआ हो जब किसी राष्ट्राध्यक्ष ने दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष के पैर छुए हों। पीएम मोदी के जैसे ही पापुआ न्यू गिनी के प्रधानमंत्री ने पैर छुए वैसे ही उन्होंने उन्हें गले लगा लिया। इसके अलावा भारत के प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए प्रोटोकॉल में भी बदलाव किया गया। पापुआ न्यू गिनी में पीएम मोदी को फिजी के सर्वाेच्च सम्मान से नवाजा गया है। फिजी देश के प्रधानमंत्री सित्वनी राबुका की ओर से फिजी के सर्वाेच्च सम्मान कम्पेनियन ऑफ द ऑर्डर ऑफ फिजी से सम्मानित किया गया है। गौर करने वाली बात ये है कि आज तक गिने-चुने गैर-फिजी लोगों को ही ये सम्मान मिला है। ऐसे में भारत के लिए इस सम्मान का अलग महत्व है। इसी के साथ रिपब्लिक ऑफ पलाऊ ने भी पीएम मोदी को एबाक्ल अवॉर्ड से सम्मानित किया।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने PM मोदी से मांगा ऑटोग्राफ 

वहीं, जी7 समिट में क्वाड मीटिंग के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन खुद पीएम मोदी से मिलने उनके पास पहुंचे और पीएम को गर्मजोशी के साथ गले लगाया। इस दौरान जो बाइडेन ने कहा वाशिंगटन की उनकी अगले महीने की यात्रा के दौरान लोग उनसे मिलने को इतने आतुर हैं कि उन्हें देने के लिए अमेरिका के पास अब टिकट नहीं बचे हैं। राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा, अपकी वजह से परेशानी हो रही है। अगले महीने वाशिंगटन में हमारे साथ आपका डिनर है। देश के सभी लोग आना चाहते हैं। मेरे पास अब देने के लिए टिकट भी नहीं बचे हैं। क्या आपको लगता है कि मै मजाक कर रहा हूं। मेरी टीम से पूछिए। फिल्म अभिनेता से लेकर रिश्तेदार तक... मुझे उन लोगों के भी कॉल आ रहे हैं, जिनसे मैंने पहले कभी बात नहीं की। आप काफी पॉपुलर हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी से यहां तक कह दिया कि मुझे आपका ऑटोग्राफ चाहिए।

ब्रिटेन के PM से निवेश पर हुई चर्चा

वहीं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक और भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी ने एक-दूसरे को गले लगाकर स्वागत किया। इस बीच दोनों नेताओं की बातचीत व्यापार, निवेश और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी से जुड़े मुद्दों पर केंद्रित थी तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का डंका जी 7 देशों के शिखर सम्मेलन में जबरदस्त बजता दिख रहा है।

पिछले 10 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं। वैश्विक और राजनीतिक के साथ-साथ ऐसी खबरें लिखने का शौक है जो व्यक्ति के जीवन पर सीधा असर डाल सकती हैं। वहीं लोगों को ‘ज्ञान’ देने से बचता हूं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!