इंसान और पक्षी की ये दोस्ती इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल है

Home   >   खबरमंच   >   इंसान और पक्षी की ये दोस्ती इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल है

203
views

कुछ रिश्तों का नाम नहीं होता लेकिन वो रिश्तें बेहद खूबसूरत और प्यारे होते हैं. चाहे इंसान और जानवर के बीच का ही क्यों ना हो. भले ही इंसानों के करीबी जानवर दोस्त में सबसे ऊपर नाम कुत्ते का आता है लेकिन ऐसा नहीं है कि अन्य कोई जीव या इंसान से दोस्ती नहीं हो सकती. इंसान और जीवों की दोस्ती की कहानियां कई किताबों में भी सुनने को मिली है. जैसे किताबों में हीरा और मोती की कहानियां काफी फेमस है. दोस्ती तो किसी से भी हो सकती है. ऐसा ही एक खूबसूरत दोस्ती अंकिना और मैना के बीच है. जो इन दिनों खूब चर्चा में छाई हुई है. सोशल मीडिया पर भी बच्ची और पक्षी की इस प्यारी कहानी को खूब पसंद किया जा रहा है.हाल ही में यूपी के अमेठी जिले के गौरीगंज में एक लड़के और सारस की गहरी दोस्ती ने लोगों को हैरानी में डाल दिया था.. जिसकी दोस्ती के किस्से सुन समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव भी उनसे मिलने पहुंचे थे... अब कुछ ऐसा ही पश्चिम बंगाल से सामने आया है.. जहां पानागढ़ के कांक्सा क्षेत्र के शिवपुर प्राथमिक विद्यालय में अंकिता बागड़ी फर्स्ट क्लास में पढ़ती है.. पहल वो अपने पांच दोस्तों के साथ हर दिन स्कूल आती-जाती थी.... अचानक एक दिन उसके दोस्तों की संख्या 6 हो गई.... कारण अंकिता की एक मैना के साथ दोस्ती हो गई.... दोस्ती भी ऐसी कि मैना अंकिता के स्कूल जाने से पहले उसका इंतजार रास्ते में करती है.... जैसे ही अंकिता उसको नजर आती है... वो मैना उड़कर अंकिता के कभी सर तो कभी कंधे पर बैठ जाती है.... फिर उसके साथ स्कूल जाती है...बच्ची अंकिता लाख कोशिश करती है.. वो उस मैना को भगा दे... पर वो भागने को तैयार ही नहीं होती...अंकिता जब पढ़ती है तो मैना टेबल पर चुपचाप बैठ जाती है... दोनों के बीच बनी दोस्ती की बॉन्डिंग कुछ इस कदर तैयार हो चुकी है कि दोनों बिना एक दूसरे को देखे रह नहीं सकते....दोनों एक साथ एक ही थाली में खाना भी खाते हैं.... यहां तक कि स्कूल में प्रार्थना के समय भी एक साथ रहते हैं.... प्रार्थना खत्म होते ही अंकिता के साथ वह मैना उसके क्लास रूम में चली जाती है.... दोनों की दोस्ती को देखकर स्कूल के प्रधानाध्यापक कहते हैं कि एक इंसान और एक परिंदे के बीच उन्होंने पहली बार ऐसी अनोखी दोस्ती देखी है. जिसको वो शब्दों में बयां नहीं कर सकते. दोनों की दोस्ती हमेशा बनी रहे. इसके आगे उन्होंने कहा जब ये दोनों स्कूल नहीं आते तो उनका मन नहीं लगता. जब अंकिता से इस बारे में पूछा गया तो वो कहती है मिट्ठू नहीं दिखता तो कुछ भी अच्छा नहीं लगता. अगर कोई मुझे बता देता की मिट्ठू दिखाई नहीं दिया तो मैं स्कूल नहीं आती. कभी कभी वो घर भी आ जाता है. इसे देखकर हर कोई खुश होता है.
अंकिता बड़े प्यार से उसे बिस्कुट खिलाती है.... उसकी देखादेखी बच्चे और टीचर भी मिट्ठू को खाना खिलाते.... एक इंसान और पक्षी के बीच ऐसा प्रेम देखकर शिवपुर के रहने वाले लोग भी दंग हैं...

कानपुर का हूं, 8 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं, पॉलिटिक्स एनालिसिस पर ज्यादा फोकस करता हूं, बेहतर कल की उम्मीद में खुद की तलाश करता हूं.

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!