Sachin Tendulkar और Bowlers के बीच ये है खट्टा-मीठा रिश्ता

Home   >   मंचनामा   >   Sachin Tendulkar और Bowlers के बीच ये है खट्टा-मीठा रिश्ता

110
views

दुनिया में 100 शतक लगाने वाले एकमात्र खिलाड़ी (49 (ODI) + 51 (Test) = 100 Centuries), जिस खिलाड़ी ने सबसे पहले किसी वनडे मैच में दोहरा शतक लगाया (Year – 2010, Run - 200*, Against - South Africa), टेस्ट और वनडे में सबसे ज्यादा चौके लगाए (ODI - 2,016 Times, Test - 2058 Times), वनडे में किसी एक टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाई हो (Australia - 9 ODI Centuries), वो खिलाड़ी जिसने सबसे ज्यादा वनडे और टेस्ट मैच खेले (ODI – 463,  Test – 200), जितने इन्होंने रन बनाए उतने रन शायद ही कोई और भी बना पाएगा (ODI - 18,426 Runs, Test – 15,921 Runs) और जितनी बार इनको 'मैन ऑफ दा मैच' और 'मैन ऑफ दी सीरीज' का खिताब मिला आज तक दुनिया को किसी भी खिलाड़ी को नहीं मिला (Man of the Match - 76 times, Man of the Series - 20 times) जिस खिलाड़ी के नाम दर्ज हैं। जिन्हें 'क्रिकेट का भगवान' कहा जाता है। उन्हें हम सचिन तेंदुलकर के नाम से जानते हैं।

24 अप्रैल, साल 1973 को जन्मे सचिन ने अपनी उम्र के अर्धशतक के पड़ाव को पार कर लिया है। जिस खिलाड़ी का 24 साल का लंबा क्रिकेट करियर हो, इतने सारे रिकॉर्ड्स उनके नाम हों।

वो आज कह रहे हैं कि ‘वनडे किक्रेट खतरे में हैं, इसके फॉर्मेट को बदलना चाहिए।खुद एक बेहतरीन बल्लेबाज होते हुए भी वे गेंदबाजों के पक्ष में बात करते हुए नजर आए।

एक वेबसाइट में छपी खबर के मुताबिक सचिन ने कहा कि ये सिर्फ बल्लेबाजों का फॉर्मेट बन चुका है। इस वक्त वनडे क्रिकेट पर ध्यान देने की जरूरत है।’

कहीं न कहीं वनडे क्रिकेट में गेंद और बल्ले के बीच संतुलन नहीं है। गेंदबाजों से ज्यादा बल्लेबाजों को फायदा हो रहा है।’

वनडे क्रिकेट दो नई गेंद से खेला जाता है। गेंद पुरानी ही नहीं होगी तो फिर गेंदबाजों को रिवर्स स्विंग नहीं मिल पाती।’

सचिन का इस तरह से बयान आने के बाद हम आप को आज वो किस्से बताएंगे। जब वे ग्राउंड में बड़े से बड़े गेंदबाज को अपने बल्ले से धो देते थे।

सचिन जब बैटिंग करते थे। तब उनके सामने अच्छे से अच्छे गेंदबाजों के पसीने छूट जाते थे।

एक किस्सा जो क्रिकेट इतिहास के सबसे रोचक किस्सों में शुमार है। ये किस्सा जुड़ा हुआ है, गेंदबाज हेनरी ओलंगा से। जो जिम्बाब्वे की टीम से खेलते थे। एक मैच में ओलंगा ने सचिन को आउट कर दिया। जिसके बाद वे खुश हुए। इंटरव्यू में भी उन्होंने बहुत कुछ कहा। लेकिन, उन्हें पता नहीं था की वो उनका लास्ट 'मैन ऑफ द मैच' इंटरव्यू होगा। क्योंकि अगले मैच में सचिन ने ओलंगा की गेंदों पर अपने बल्ले से इतने रन बनाए की सीरीज के खत्म होते ही ओलंगा ने दुखी होकर संन्यास ले लिया। इसके बाद वे कमेंटेटर बन गए।

वहीं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर्स में शुमार शेन वॉर्न। जिनको सपने में भी सचिन दिखते थे।

साल था 1998 और जगह शारजाह का मैदान। इस मैच में सचिन को रोक पाना ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए नामुमकिन था। सचिन ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की जमकर धुनाई की, जिसमें शेन वॉर्न भी शामिल थे।

अपने करियर में 708 टेस्ट विकेट ले चुके शेन वॉर्न ने मैच खत्म होने के बाद इंटरव्यू में कहा था कि जब मैं सोने जाता हूं, तब मुझे सपने आते हैं कि, सचिन मेरे सिर के ऊपर से छक्का मार रहे हैं।’ उन्होंने आगे कहा था कि,  सचिन को रोक पाना मुश्किल है। मुझे नहीं लगता कि डॉन ब्रैडमैन के अलावा कोई उस क्लास में है, जिसमें सचिन हैं। वो एक शानदार खिलाड़ी हैं।’

जब गेंदबाजों की बात हो और दुनिया में सबसे तेज गेंद फेंकने वालों में शुमार, शोएब अख्तर का जिक्र न आए, ऐसा हो ही नहीं सकता। जब सचिन क्रीज पर होते और सामने शोएब अख्तर, तो मैच का रोमांच एक अलग ही स्तर पर होता।

एक इंटरव्यू में शोएब अख्तर ने बताया था कि, 'वर्ल्ड कप 1999 में सचिन तेंदुलकर ने मेरे खिलाफ बहुत अच्छा खेला। जबकि उस दौर में बल्लेबाज मुझसे डरते थे। मेरे सामने दुनिया के कई बल्लेबाजों के पैर हिल तक नहीं पाते थे।'

वहीं सचिन ने एक बार बताया कि, वो कभी हैंसी क्रोनिये की गेंदों को खेलना पसंद नहीं करते थे।

सचिन ने कहा था कि, हैंसी क्रोनिए जब बॉलिंग करते थे। तो उनके सामने बल्लेबाजी के दौरान किसी न किसी वजह से मैं आउट हो जाता था।’

मुथैया मुरलीधरन, शॉन पोलाक, ग्लेन मैक्ग्रा, जेम्स एंडरसन, चामिंडा वास, वसीम अकरम, वकार यूनस जैसे तमाम दिग्गज गेंदबाजों पर भारी पड़ कर सचिन ने सबको धोया और कभी-कभी इनकी बॉलिंग सचिन पर भी भारी पड़ जाती।

ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज ब्रेटली और सचिन का आमना सामना क्रिकेट के मैदान पर कई बार हुआ। ब्रेटली ने ही सचिन तेंदुलकर को सबसे ज्यादा बार आउट किया।

सचिन ने बल्लेबाजी के साथ-साथ बॉलिंग भी की। उन्होंने 200 विकेट लिए और सबसे ज्यादा बार पाकिस्तान के खिलाड़ी इंजमाम उल हक को आउट किया।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!