Tiku Weds Sheru Review: सिंपल स्टोरी और लाजवाब एक्टिंग का मिक्स है ये फिल्म

Home   >   रंगमंच   >   Tiku Weds Sheru Review: सिंपल स्टोरी और लाजवाब एक्टिंग का मिक्स है ये फिल्म

88
views

नवाजुद्दीन सिद्दीकी और डेब्यू गर्ल अवनीत कौर की फिल्म टीकू वेड्स शेरू ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम वीडियोज पर आ चुकी है। फिल्म वैसे तो वन टाइम वॉच है, लेकिन फिल्म की कहानी के साथ नवाजुद्दीन सिद्दीकी और अवनीत कौर ने रोल्स को कैसे स्पेशल बना दिया है।

सबसे पहले कहानी की बात करते हैं, ये जूनियर आर्टिस्ट शेरू (नवाजुद्दीन सिद्दीकी) और टीकू (अवनीत कौर) की कहानी है। शेरू, मुंबई में रहता है और जूनियर आर्टिस्ट है। लेकिन इसी के साथ शेरू दो नंबर के धंधे का काम भी करता है। दूसरी तरफ टीकू, भोपाल की रहने वाली है जिसका सपना मायानगरी में अपना नाम बनाने का है।

फिल्म बनाने के चक्कर में शेरू कहीं से पैसा ले लेता है और उसे नुकसान हो जाता है, इसी दौरान उसके पास भोपाल की टीकू का रिश्ता आता है। जो शेरू के लिए अच्छी खबर इसलिए बन जाती है क्योंकि इस शादी से उसको 10 लाख रुपए भी मिलेंगे। लेकिन टीकू शादी से मना कर देती है, तो उसका बॉयफ्रेंड उसे सलाह देता है कि इस शादी को करके वो मुंबई आ सकती है।

फिर क्या टीकू और शेरू की शादी हो जाती है। लेकिन मुंबई आकर टीकू को पता चलता है बॉयफ्रेंड ने तो धोखा दे दिया और वो प्रेग्नेंट है। फिर कहानी में आगे क्या होता है, आगे टीकू और शेरू की इस शादी का क्या होगा, ये जानने के लिए आप दो घंटे से भी कम वक्त की इस फिल्म देख सकते हैं।

अब इस फिल्म के सबसे बड़े पॉजिटिव प्वाइंट यानी कि एक्टिंग की बात करते हैं। नवाजुद्दीन सिद्दीकी की एक्टिंग स्किल्स पर शायद ही किसी को डाउट हो, फिल्म में भी वो जूनियर आर्टिस्ट के रोल में फिट बैठते हैं और आपको यकीन दिला देते हैं कि वो एक जूनियर आर्टिस्ट हैं। उनका लहजा और अंदाज अलग है और नवाज के फैंस को पंसद आएगा।

साथ ही नवाज के साथ लीड रोल में अवनीत कौर ने शानदार काम किया है। महज 21 साल की अवनीत कौर कई बार सीन के हिसाब से कम उम्र की भले मालूम पड़े लेकिन उनकी एक्टिंग आपको उनके किरदार के साथ फिट होती नजर आएगी। इसी के साथ फिल्म में जाकिर हुसैन, मुकेश भट्ट और विपिन शर्मा ने भी अच्छा काम किया है।

टीकू वेड्स शेरू को साई कबीर ने कंगना रनौत की प्रोडक्शन कंपनी मणिकर्णिका फिल्म के बैनर तले अमित तिवारी के साथ लिखा और डायरेक्ट किया है। हालांकि राइटिंग और डायरेक्शन में कमीं नजर आती है और फिल्म में नवाजुद्दीन सिद्दीकी जैसे एक्टर को और बेहतर इस्तेमाल किया जा सकता है, ऐसा कुछ सीन्स में लगता है। कुल मिलाकर ये फिल्म नवाजुद्दीन सिद्दीकी और अवनीत कौर के फैंस को पसंद आने वाली है और फिल्म की अच्छी बात ये ही कि ये महज 1 घंटे 52 मिनट की है।

 

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!