उत्तर प्रदेश में महंगी हो सकती है बिजली, Electricity Tariff के लिए बिजली कंपनियों ने भेजा प्रस्ताव

Home   >   खबरमंच   >   उत्तर प्रदेश में महंगी हो सकती है बिजली, Electricity Tariff के लिए बिजली कंपनियों ने भेजा प्रस्ताव

184
views

उत्तर प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं को महंगाई का झटका लग सकता है। यूपी में तीन सालों बाद बिजली के रेट बढ़ सकते हैं। बिजली की दर बढ़ाने के लिए बिजली कंपनियों ने सरकार को प्रस्‍ताव दिया है। जिसके बाद योगी सरकार को फैसला करना है कि बिजली के दाम कब बढ़ेंगे।

भारत में सबसे से ज्यादा बिजली की खपत करने वाला राज्य उत्तर प्रदेश हैं और यहां के लोगों को बहुत जल्द महंगी बिजली का करंट लगाने वाला है। ये झटके की तैयारी की है बिजली कंपनियों ने। बिजली कंपनियों ने फाइनेंशियल ईयर 2023-24 के लिए बिजली दरों में औसतन 15.85% की बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया है। राज्य विद्युत नियामक आयोग को दिए गए प्रस्ताव में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी घरेलू बिजली उपभोक्ताओं की दरों में हो सकती है। इस कैटिगरी की दरों में 18% से 23% की बढ़ोतरी की बात कही गई है। 

इस हिसाब से 0 से 150 यूनिट पर बिजली का उपभोग करने वाले शहरी घरेलू उपभोक्ताओं को अब 5.50 रुपये प्रति यूनिट की जगह 6.50 रुपये देने होंगे। वहीं 151 से 300 यूनिट उपभोग पर 6 रुपये की जगह 7 रुपये प्रति यूनिट देने होंगे, जबकि 300 यूनिट से ऊपर 6.50 रुपये की जगह 8 रुपये प्रति यूनिट देने होंगे।

वहीं फिक्स्ड चार्ज 110 रुपये से बढ़ाकर 120 रुपये करने का प्रस्ताव दिया गया है। ये प्रति किलो वॉट की दर से बढ़ेंगे। उद्योगों की दरों में 16%,  कृषि की दरों 10% से 12% तक कमर्शल दरों में बढ़ोतरी हो सकती है। इस बार एक किलोवॉट से कम लोड वाले उपभोक्ताओं की बिजली भी महंगी करने की तैयारी है। इस श्रेणी के यूजर्स की दरों में 17% तक की बढ़ोत्तरी का भी प्रस्ताव है।

ऐसे में अगर प्रस्तावित नई दरें लागू होती हैं तो घरेलू ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिए प्रति यूनिट बिजली की कीमत 3.50 से बढ़कर ₹4.35-पहली 100 यूनिट हो जाएगी। जबकि 300 यूनिट से अधिक खपत होने पर ₹5. 50 पैसे प्रति यूनिट की जगह 7 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान करना होगा।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!