आंध्र प्रदेश में दिग्गज बिजनेसमैन मुकेश अंबानी और गौतम अडानी मिलकर बनाएंगे बिजली

Home   >   खबरमंच   >   आंध्र प्रदेश में दिग्गज बिजनेसमैन मुकेश अंबानी और गौतम अडानी मिलकर बनाएंगे बिजली

418
views

हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आने के बाद से अदाणी ग्रुप के चेयनमैन गौतम अदाणी की चर्चा देश-विदेश में है। इसका असर ये रहा कि दुनिया के टॉप-10 सबसे अमीरों की लिस्ट में रहने वाले गौतम अदाणी टॉप-25 से भी बाहर हो गए। लेकिन अब शायद गौतम अदाणी को दिग्गज बिजनेसमैन मुकेश अंबानी का साथ मिल गया है। दोनों की जुगलबंदी आंध्र प्रदेश के बड़े प्रोजेक्ट में देखने को मिलने वाली है।

रिलायंस और अडानी ग्रुप की आंध्र प्रदेश में मौजूदगी पहले से रही है। रिलायंस ने KG-D6 नेचुरल गैस के विकास और पाइपलाइन के डेवल्पमेंट में 1.5 ट्रिलियन रुपये से ज्यादा का इंवेस्टमेंट किया है। आने वाले समय में देश का 30% गैस प्रोडक्शन यही से होगा। लेकिन उससे पहले मुकेश और गौतम अदाणी की कंपनी आंध्र प्रदेश में एकसाथ मिलकर 25 गीगावॉट बिजली का प्रोडक्शन करने जा रही है

रोजगार के अवसर होंगे पैदा

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने आंध्र प्रदेश में हुए ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में कहा कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड राज्य में 10 गीगावॉट सोलर एनर्जी का भी कंस्ट्रक्शन करेगी। जिससे राज्य में 50 हजार रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।

आंध्र प्रदेश में अडानी-अंबानी ने किया बड़ा निवेश

आंध्र प्रदेश में रिलायंस ने पेट्रोकेमिकल्स और रिफाइनिंग से अपनी धाक जमाई है तो वहीं अडानी ने कोयला व्यापार में सफलता हासिल की है। हालांकि दोनों समूह तेजी से ग्रीन एनर्जी के लक्ष्यों से पास आ रहे हैं। अंबानी ने पिछले साल 75 बिलियन डॉलर की निवेश की घोषणा की थी। वहीं गौतम अडानी ने 70 बिलियन डॉलर खर्च करने का वादा किया था। लेकिन, हाल ही में आई अमेरिकी रिसर्च फर्म हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद अडानी ग्रुप को काफी नुकसान उठाना पड़ा है।

हालांकि इन सबके बावजूद अडानी ग्रुप ने आंध्र प्रदेश में 10 मिलियन टन के दो सीमेंट प्लांट लगाने की योजना बनाई है। जिससे अगले पांच सालों में कृष्णापटनम और गंगावरम बंदरगाहों की क्षमता को दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। अदाणी ग्रुप विशाखापत्तनम में 400 मेगावाट का डेटा सेंटर विकसित करने पर भी काम कर रहा है।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!