ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला वनडे मैच जीतना कप्तान हार्दिक पांड्या के लिए क्यों है जरूरी, दिग्गज सुनील गावस्कर ने बताई वजह

Home   >   रनबाज़   >   ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला वनडे मैच जीतना कप्तान हार्दिक पांड्या के लिए क्यों है जरूरी, दिग्गज सुनील गावस्कर ने बताई वजह

129
views

फटाफट क्रिकेट यानी टी20 में क्रिकेटर हार्दिक पांड्या ने अपनी कैप्टेंसी से लोहा मनवाया है। शायद इसी का ईनाम उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में एक मौके के तौर पर मिला है, जो उनका कप्तान के तौर भविष्य तय करेगा। परमानेंट कप्तान रोहित शर्मा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 17 मार्च को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में होने वाले पहले वनडे मैच में नहीं खेलेंगे। उनकी गैरमौजूदगी में BCCI की सेलेक्शन कमेटी ने हार्दिक को कैप्टेंसी सौंपी है। हालांकि टीम में विराट कोहली, और केएल राहुल जैसे सीनियर प्लेयर थे, लेकिन इसके बावजूद कमेटी ने हार्दिक को चुना है। क्योंकि क्रिकेट जगत में ऐसी चर्चा है कि इस साल होने वाले वनडे वर्ल्ड कप के बाद हार्दिक रोहित की जगह इंडिया के परमानेंट वनडे के कप्तान बनाए जा सकते हैं। हालांकि उसके पहले उन्हें ये मैच जीतकर खुद को साबित करना होगा। 

नमस्ते...

इंडिया के स्टार बल्लेबाज़ विराट कोहली दिसंबर 2021 में वनडे टीम की कैप्टेंसी छोड़ी थी। उसके बाद से रोहित शर्मा टीम की कप्तानी संभाल रहे थे, रोहित के न होने पर टीम की कमान विकेटकीपर बल्लेबाज केएल राहुल संभाली। जहां दोनों की कैप्टेंसी में वनडे फॉर्मेट में इंडिया कोई भी बड़ी ट्रॉफी नहीं जीत पाई। वहीं खुद केएल राहुल खराब फार्म से जूझ रहे हैं, उनके बल्ले से रन आने बंद हो गए है। शायद इसी वजह से सेलेक्शन कमेटी हार्दिक को भविष्य में टीम की कमान सौंपना चाहती है। क्योंकि हार्दिक की कैप्टेंसी में इंडिया ने टी20 में शानदार प्रदर्शन किया है।

हालांकि मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में टीम इंडिया के लिए जीत आसान नहीं रहने वाली है। आखिरी बार साल 2020 दोनों टीमों के बीच इस मैदान पर मुकाबला खेला हुआ था, इस मुकाबले में इंडिया को 10 विकेट से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था। इंडिया को साल 2007 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस मैदान पर जीत मिली थी।

वानखेड़े में टीम इंडिया  का रिकॉर्ड

वानखेड़े में अब तक दोनों टीमों के बीच टोटल 4 वनडे मुकाबले खेले गए हैं। जिसमें से टीम इंडिया सिर्फ एक ही मैच जीत सकी है, कंगारू टीम को 3 मैचों में जीत मिली है।

हार्दिक की कैप्टेंसी में गुजरात बनी चैंपियन

IPL 2022 में अपनी कैप्टेंसी में गुजरात जायंट्स को पहले ही सीज़न में चैंपियन बनाने के बाद हार्दिक पांड्या बतौर टी-20 कप्तान बहुत सफल रहे हैं। उनकी कैप्टेंसी में करीब 75 फीसदी मैचों में टीम इंडिया को जीत मिली है। शायद इसी वजह से उन्हें पहली बार किसी वनडे की कमान सौंपी गई है।

बतौर कप्तान हार्दिक का टी20 में प्रदर्शन

हार्दिक अबतक 11 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में टीम की कमान संभाल चुके हैं। जिसमें इंडिया ने 8 मुकाबले जीते हैं, जबकि 2 में हार और 1 मैच टाई रहा है।

सुनील गावस्कर का बयान

हार्दिक पांड्या को लेकर दिग्गज सुनील गावस्कर का कहना है कि मै टी-20 फॉर्मेट में हार्दिक की कप्तानी से बहुत प्रभावित हूं। मेरा मानना है कि अगर वो मुंबई में पहला मैच जीत लेते हैं, तो 2023 में विश्व कप खत्म होने के बाद आप इंडिया के कप्तान के लिए उनके नाम पर मुहर लगा सकते हैं

वहीं अगर बात करें ऑस्ट्रेलियाई टीम को तो, पैट कमिंस की गैरमौजूदगी में एक्सपीरियंस खिलाड़ी स्टीव स्मिथ टीम की कप्तानी कर रहे हैं। कप्तान के तौर पर उनका रिकॉर्ड शानदार रहा है। इसलिए इस मुकाबले में हार्दिक को कंगारू टीम से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!