यूपी में बिजली चोरी रोकने के लिए अनोखी कवायद, ड्रोन कैमरे की मदद से पकड़े जा रहे कटियाबाज

Home   >   खबरमंच   >   यूपी में बिजली चोरी रोकने के लिए अनोखी कवायद, ड्रोन कैमरे की मदद से पकड़े जा रहे कटियाबाज

110
views

 यूपी में बिजली की डिमांड ऑल टाइम हाई है। वहीं बिजली सप्लाई करने वाली डिस्काॅम लगातार लाइन लाॅस और घाटे से जूझ रही हैं। ऐसे में अब बिजली चोरी पकड़ने के लिए नई कवायद शुरू की गई है। जिसमें ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल भी बिजली वितरण कंपनियों के कर्मचारी कर रहे हैं। ड्रोन कैमरे से लिए गए कटियाबाजी के ये वीडियो पर सोशल मीडिया पर भी खूब चल रहे हैं।

  

दरअसल यूपी में बिजली चोरी पकड़़ने के लिए पाॅवर कारपोरेशन के आदेश के बाद सभी डिस्काॅम ने अभियान चला रखा है। इसमें कुछ डिस्काॅम ऐसे भी हैं जहां बिजली चोरी और कटियाबाजी को पकड़ने के लिए ड्रोन कैमरे की मदद भी ली जा रही है। दरअसल सबस्टेशन के स्तर पर ही किन इलाकों में लाइन लाॅस ज्यादा है उसे चिन्हित कर बिजली विभाग के  प्रवर्तन दस्ते के कर्मचारी सुबह के वक्त छापा मार रहे है। इस दौरान किन घरों में कटिया लगा कर बिजली चोरी की जा रही है उसे पकड़ने के लिए ड्रोन कैमरे की भी मदद ली जा रही है। अब  तो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। वो छापे के दौरान चोरी छिपे कटिया हटाने के हैं,लेकिन कटियाबाजों पर एक तीसरी नजर ड्रोन कैमरे की भी है। लखनउु में ही बीते चार दिनों में ड्रोन कैमरे की मदद से पकड़े गए बिजली चोरी के 50 मामलों में एफआईआर भी दर्ज कराई गई है। साथ ही ऐसे बिजली चोरों से शमन शुल्क भी वसूला जा रहा है। आपको बता दें कि यूपी में बिजली वितरण करने वाली सभी 5 डिस्काॅम का कुल घाटा 2021 में 50 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा था। वहीं इस साल बिजली के रेट में भी बढ़ोत्तरी नहीं हुई है। यूपी के सभी डिस्काॅम में कुल 3-27 करोड़ बिजली कनेक्शन हैं जिसमें से 2-88 करोड़ घरेलू कनेक्शन हैं। ऐसे में पाॅवर कारपोरेशन की ओर से भीषण गर्मी के बीच बिजली की बढ़ी डिमांड को देखते हुए लाइन लाॅस को रोकने के लिए भी प्राथमिकता दी जा रही है। इसी वजह से शहरों और कस्बों में बिजली चोरी रोकने के लिए अभियान चल रहा है।  

 

 

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!