Airtel, Jio, Vodafone Idea, BSNL में किसके Plan है Best, मिनिमम रिचार्ज प्लान क्यों हुए महंगे ?

Home   >   Techमंच   >   Airtel, Jio, Vodafone Idea, BSNL में किसके Plan है Best, मिनिमम रिचार्ज प्लान क्यों हुए महंगे ?

Airtel, Jio, Vodafone Idea, BSNL में किसके Plan है Best, मिनिमम रिचार्ज प्लान क्यों हुए महंगे ?
13
views

जुलाई महीने में मोबाइल यूजर्स को बड़ा झटका मिला. जैसे ही Jio, Airtel और VI ने रिचार्ज प्लान की कीमतों में इजाफा किया लोग परेशान हो गए. जिसके बाद से लगातार सोशल मीडिया पर एक ट्रेंड बना हुआ है कि BSNL में पोर्ट करो. BSNL की घर वापसी. पोर्ट को आसान भाषा में कहें तो सेम नंबर के साथ किसी भी कंपनी में आप स्विच कर सकते हो. सोशल साइट X पर तो एक दो नहीं, बल्कि हजारों की संख्या में लोग BSNL पोर्ट की बात कह रहे हैं. जिसने सबका ध्यान खींचा है. ऐसे में ये सवाल उठता है कि आखिर BSNL में ऐसा क्या है सब उसमें पोर्ट की बात कह रहे हैं और इन तीनों प्राइवेट कंपनियों के प्लान और BSNL में फर्क क्या है, किस कंपनी के सबसे ज्यादा यूजर्स है, आखिर चंद रुपये बढ़ने से कंपनियों को कितना फायदा होने वाला है. 

कर लो दुनिया में मुट्ठी में, इस स्लोगन के साथ Reliance टेलीकॉम ने मार्केट में साल 2002 में कदम रखा था. धीरूभाई अंबानी ने R. कॉम को लॉन्च  किया था. जिस वक्त धीरूभाई  ने रिलायंस क्म्यूनिकेशन की शुरुआत की थी, उस समय भारत में कई टेलीकॉम कंपनियां मौजूद थी. लेकिन R. कॉम ने बाजार में आते ही तहलका मचा दिया था. धीरूभाई का उद्देश्य देश के हर आदमी तक मोबाइल पहुंचाना था. जो बिल्कुल सही साबित हुआ, आज की तारीख में 70 से ज्यादा प्रतिशत लोग मोबाइल को यूज करते है. भले ही मार्केट में कई कंपनियां रही होंगी लेकिन रिलायंस ने लोगों की सही नब्ज को पकड़ा. रिलायंस जियो के मार्केट में एंट्री से पहले एक वक्त ऐसा भी आया था जब 1 जीबी डेटा की कीमत 300 रुपये तक पहुंच गई थी और लोग इतने महंगे प्लान्स को लेने से पहले बस यही सोचते थे कि काश इन महंगे प्लान से बचने का कोई तोड़ होता. तभी एंट्री हुई रिलायंस जियो की और रिलायंस जियो ने लोगों को शुरुआत में फ्री डेटा की पेशकश ऑफर की और फिर जब कंपनी ने प्लान्स लॉन्च किए तो कीमतें काफी कम रखी गई जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग जियो नेटवर्क से जुड़े.

 

आसान भाषा में समझें तो जो लोग चाहते थे वही रिलायंस जियो ने किया और मार्केट में एंट्री के बाद धीरे-धीरे एयरटेल और वीआई यूजर्स जियो की तरफ खींचे चले गए. एयरटेल और वीआई का सब्सक्राइबर बेस कम होता गया है और जियो नेटवर्क से लोगों के जुड़ने का कारवां यूं ही बढ़ता चला गया. BSNL को तो मानों लोग पूछना ही बंद कर दिए थे. इस वक्त अगर सबस्क्राइबर बेस की बात करें तो Reliance Jio के पास भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल ग्राहक हैं.

Characteristic Number of subscribers in millions

Reliance Jio 459.81    (45.981 करोड़)

Bharti Airtel 381.73    (38.173 करोड़)

Vodafone Idea 223.05    (22.305 करोड़)

BSNL                91.96      (9.196 करोड़)

Source-Statista

देखा जाए तो जियो की कम लागत वाली रणनीति, बड़ी संख्या में सब्सक्राइबर बेस, बेहतर कनेक्टिविटी और डेटा पर फोकस जैसे कई कारण हैं जिस वजह से आज भी कंपनी के प्लान्स की कीमतें एयरटेल और वीआई की तुलना कम है. एयरटेल का 30 दिनों की वैलिडिटी और डेली 1 जीबी डेटा वाला प्लान 211 रुपये का है. वहीं दूसरी तरफ जियो का 28 दिनों की वैलिडिटी और 1 जीबी डेली डेटा वाले प्लान की कीमत 249 रुपये है. जबकि VI का 28 दिनों की वैलिडिटी और डेली 1 जीबी डेटा वाले प्लान के लिए 299 रुपये खर्च करने पड़ते हैं.

इन तीनों की बात करें तो सबसे सस्या BSNL का प्लान है. BSNL का 107 रुपये का प्लान हैं. ये प्लान 35 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता है. इसमें कंज्यूमर्स को 3GB डेटा और 200 फ्री वॉयस कॉलिंग मिनट्स मिलते हैं. डेली 1.5 जीबी और 28 दिनों की वैलिडिटी वाले प्लान की बात करें तो जियो का प्लान 329 रुपये तो वहीं एयरटेल और वीआई कंपनी का प्लान 349 रुपये का है. वहीं BSNL को देखें तो इसका प्लान 147 रुपये का मिलेगा, जिसमें कंज्यूमर्स को 30 दिनों की वैलिडिटी मिलती है. ये प्लान 10GB डेटा और अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग के साथ आता है. अगर 56 दिनों की वैलिडिटी और 2 जीबी डेली डेटा वाले प्लान्स की बात करें तो जियो प्लान की कीमत 629 रुपये तो वहीं वीआई और एयरटेल प्लान की कीमत 649 रुपये है. वही BSNL कंपनी 298 रुपये का प्लान भी ऑफर करती है, जिसमें यूजर्स को डेली 1GB डेटा, अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग और डेली 100 SMS मिलते हैं. ये प्लान 52 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता है.

 

मोबाइल कंपनियों ने जो रेट बढ़ाए है. उसके बाद एक्सपर्ट्स का मानना है इन कंपनियों के रेवेन्यू में लगभग 35 हजार करोड़ की बढ़ोत्तरी होगी, ऐसे में ये भी जानना जरूरी है की पिछले साल टर्नओवर क्या रहा था. अब बात आती है बड़ी कंपनियों के टर्नओवर की

     कंपनी                             टर्नओवर

Reliance Jio Revenue     1,00,577 करोड़

 भारती एयरटेल                    94,119.80 करोड़

वोडाफोन आइडिया(VI)          42,243.20 करोड़

BSNL                                 21302.38 करोड़

Source- Moneycontrol

हालांकि मोबाइल यूजर्स को लगे झटके पर कांग्रेस ने सवाल उठाए, उन्होंने इसे लूट करार दिया. बता दें कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि ये भले ही मोदी 3.0 है, लेकिन मित्र पूंजीपतियों को बढ़ावा देना जारी है. निजी मोबाइल कंपनियों को लाभ कमाने की मंजूरी देकर मोदी सरकार 109 करोड़ मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं को लूट रही है. सुरजेवाला ने TRAI का हवाला देते हुए कहा कि कनेक्टिविटी चाहने वाले आम लोगों की जेब से अतिरिक्त वार्षिक भुगतान 34,824 करोड़ रुपये होगा. जिस पर रिलायंस जियो, एयरटेल, वोडाफोन आइडिया का एकाधिकार है. एक ओर जहां कांग्रेस ने सवाल उठाए तो दूसरी ओर बीजेपी ने आरोपों का पलटवार करते हुए कहा कि ये काम कंपनियों का है.

जबकि कंपनियों की ओर से रिचार्ज महंगे करने का कारण कुछ और ही है. रिपोर्ट्स की मानें तो तीनों ही कंपनियों ने प्लान्स की कीमतें बढ़ाने के पीछे ARPU को मुख्य कारण बताया है.

What Is ARPU ?

ARPU is a key metric used to calculate a telecom operator's total revenue divided by its total number of users or subscribers.

यानी ARPU एक प्रमुख मैट्रिक है जिसका इस्तेमाल टेलीकॉम ऑपरेटर के Total Revenue को उसके कुल यूजर्स या सब्सक्राइबरों की संख्या से विभाजित करके काउंट किया जाता है. फाइनेंशियली इसको बनाए रखने के लिए मोबाइल ARPU को 300 रुपये से ज्यादा होना चाहिए. अगर हम तीनों कंपनियों के मार्च 2023 तक के ARPU को देखें तो एयरटेल का ARPU 209 रुपये, जियो का ARPU 181.70 रुपये और वोडाफोन आइडिया का ARPU 146 रुपये था. टैरिफ बढ़ोतरी से फाइनेंशियल ईयर 2025 में ARPU 15 प्रतिशत बढ़कर 220 रुपये हो जाने की उम्मीद है, जबकि पिछले वित्त वर्ष में ये सिर्फ 191 रुपये था.

 

आपको बता दें भारत में दो तरह की सिम इस्तेमाल होती है, प्रीपेड और पोस्टपेड. देखने में दोनों एक जैसी लगती हैं, लेकिन इनके प्लान अलग-अलग होते हैं. प्रीपेड कनेक्शन के लिए मोबाइल कंपनियाँ आए दिन नए-नए और सस्ते प्लान निकालती रहती हैं. प्रीपेड सिम के यूजर्स को अपनी ज़रूरत के हिसाब से पहले ही रिचार्ज करवाना होता है. जबकि पोस्टपेड कनेक्शन के यूजर्स को रिचार्ज ख़त्म होने की कोई चिंता नहीं होती है, क्योंकि उन्हें महीने के अंत में बिल भरना होता है. इसके अलावा पोस्टपेड प्लान बिजनेस मैन लोगों के लिए सस्ता पड़ता है.

Plan                         Airtel (INR)     Reliance Jio (INR)                                 VI's (INR)      

40GB (Monthly)       399 वाला 449               299 लाला 349                           401 वाला 451*

75GB (Monthly)       499 वाला 549               399 वाला 449                            501 वाला 551*

Note- VI's के 451 वाले प्लान में 50 GB, 551 में 90 GB तक डेटा मिलेगा

इसके साथ ही ब्राड बैंड प्लान में भी अब इजाफा होने की संभावना जताई जा रही है. फिलहाल इन दिनों प्लान महंगे होने से यूजर्स को बड़ा झटका जरूर लगा है. आंकड़ों के मुताबिक अधिकतम 600 रुपए तक प्लान महंगे कर दिए गए हैं. जियो, एयरटेल के प्लान 3 जुलाई से महंगे हो गए थे, लेकिन वोडाफोन के प्लान की कीमत में 4 जुलाई से इजाफा हुआ है. ऐसे में सभी यूजर्स को प्लान के मामले में तगड़ा झटका लगा है. यही वजह है कि बीएसएनएल की ओर यूजर्स पोर्ट की बात कह रहे हैं.  बता दें टेलीकॉम सेक्टर में अब सिर्फ सरकारी कंपनी BSNL ही एक ऐसा ऑप्शन है जिसके पास सबसे कम कीमत के रिचार्ज प्लान्स उपलब्ध हैं.

 

कानपुर का हूं, 8 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में हूं, पॉलिटिक्स एनालिसिस पर ज्यादा फोकस करता हूं, बेहतर कल की उम्मीद में खुद की तलाश करता हूं.

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!