पैन कार्ड की डीटेल बताते वक्त इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो हो जाएगा बड़ा फ्रॉड

Home   >   Techमंच   >   पैन कार्ड की डीटेल बताते वक्त इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो हो जाएगा बड़ा फ्रॉड

पैन कार्ड की डीटेल बताते वक्त इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो हो जाएगा बड़ा फ्रॉड
12
views

PAN Card - बेहद जरूरी डॉक्यूमेंट

एक बेहद जरूरी डॉक्यूमेंट। बिना इसके ITR फाइल करने से लेकर इंश्योरेंस प्रीमियम जमा करने तक, बैंक अकाउंट खोलने, डेबिट या क्रेडिट कार्ड बनवाने जैसा कोई भी काम नहीं कर सकते। प्रॉपर्टी और गाड़ी नहीं खरीद सकते। इसकी डिटेल किसी स्कैमर के हाथ लग जाए तो आपका बैंक अकाउंट खाली हो सकता है, कोई भी आपके नाम पर लोन ले सकता है। ये जरूरी डाक्यूमेंट PAN कार्ड है। इसी PAN का फायदा उठाकर साइबर ठग आप लोगों मेहनत की कमाई पर डाका डाल देते हैं। आखिर ये PAN कार्ड फ्रॉड क्या है? और ऐसी कौन सी सावधानियां हैं जिससे हम साइबर ठगों का शिकार होने से बच सकते हैं।

कैसे होता है PAN कार्ड फ्रॉड?

ये कार्ड इनकम टैक्स डिपार्टमेंट इश्यू करता है। इसका यूज अमूमन इनकम डिटेल पर नजर रखना होता है। इसमें कार्ड होल्डर के नामफोटोडेट ऑफ बर्थसिग्नेचर और पैन नंबर होता है। साइबर क्रिमिनल इन्हीं डिटेल से ऑनलाइन ठगी करते है।स्कैम करने वाले ज्यादातर स्कैमर्स यूजर्स को PAN कार्ड अपडेट करने के लिए फेंक लिंक भेजते हैं। इस पर जैसे ही क्लिक करते हैंस्कैमर यूजर्स के मोबाइल का एक्सेस ले लेते हैं और अपना काम कर जाते हैं। अगर किसी वेबसाइट पर जाने से पहले उसका URL चेक करें। URL https लिखा हो तो ठीक है अगर इसमें लास्ट में न लिखा हो तो सतर्क हो जाएं।

किस तरह के होते फ्रॉड ?

ऑनलाइन बुकिंग की जा सकती है। फर्जी बैंक अकाउंट खोला जा सकता है। आपके नाम पर लोन लिया जा सकता है। फर्जी क्रेडिट कार्ड बनवाया जा सकता है।PAN कार्ड का कोई मिस यूज कर रहा है। इसका पता लगाने के लिए सबसे बेहतर है कि क्रेडिट स्कोर को वेरीफाई कर लें। क्रेडिट स्कोर मतलब किसी भी व्यक्ति के लोन चुकाने की क्षमता से होता है। आपका क्रेडिट स्कोर आपको इस बारे में जानकारी देता है कि आपके पैन कार्ड के साथ कुछ अनऑथराइज्ड एक्टिविटी तो नहीं हो रही है। अगर क्रेडिट स्कोर के जरिए किसी तरह के फ्रॉड का पता चले तो तत्काल शिकायत करें।

शिकायत करने को क्या करें?

1: https://www.protean-tinpan.com/ के ऑफिशियल पोर्टल पर जाएं।

2: इसके बाद होम पेज पर ऊपर दाईं तरफ 'कस्टमर केयरऑप्शन पर जाएं।

3: फिर ड्रॉप-डाउन कर 'कंप्लेन/क्वैरीके ऑप्शन पर क्लिक करें।

4: इसके बाद एक शिकायत पत्र आएगाइसमें अपनी शिकायत से जुड़ी डिटेल्स को भरकर कैप्चा दर्ज करें।

5: शिकायत से जुड़ी जानकारी और कैप्चा दर्ज करने के बाद 'सबमिटके बटन पर क्लिक करें।

PAN को मिसयूज से बचाने के लिए क्या करें ?

PAN कार्ड कंप्यूटर या मोबाइल में न रखें। होटल या ई-टिकट बुकिंग के लिए वोटर ID कार्ड, DL या आधार कार्ड का यूज करें। PAN कार्ड को ID के रूप में इस्तेमाल करने से बचें। PAN की जेरॉक्स जमा करते वक्त उस पर सिग्नेचर और डेट जरूर डालें। पब्लिक प्लेस के फाइफाई नेटवर्क में नेट चलाएं तो PAN कार्ड की डिटेल वेबसाइट में न डालें। अननोन लिंक पर क्लिक करने से बचें। PAN कार्ड की जानकारी देने से पहले वेबसाइट को वेरिफाई जरूर करें। क्रेडिट स्कोर और वित्तीय लेनदेन को चेक करते रहे। लेनदेन पर नजर रखने के लिए फॉर्म 26AS को चेक करें। अनजान पोर्टल पर अपना पूरा नाम या जन्मतिथि दर्ज न करें। इन डिटेल्स का इस्तेमाल करके साइबर ठग आयकर वेबसाइट पर पैन कार्ड नंबर ढूंढ सकते हैं।

सुनता सब की हूं लेकिन दिल से लिखता हूं, मेरे विचार व्यक्तिगत हैं।

Comment

https://manchh.co/assets/images/user-avatar-s.jpg

0 comment

Write the first comment for this!